अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के कुलपति जमीरुद्दीन शाह ने स्मृति ईरानी पर यूनिवर्सिटी की ग्रोथ को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है। कुलपति शाह ने बताया कि केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने उनसे कहा कि केरल, पश्चिम बंगाल और बिहार में यूनिवर्सिटी के ऑफ कैंपस अवैध हैं। उन्होंने कहा कि जबकि हमें फंड की जरूरत है, मंत्री ऐसा कह यूनिवर्सिटी को नुकसान पहुंचा रही हैं।

 स्मृति ईरानी (फाइल फोटो)

हाल के दिनों में कैंटीन में बीफ परोसने और कैंपस में ऐंटी नैशनल गतिविधि के आरोप वाले बीजेपी एमपी सतीश गौतम के खत को लेकर एएमयू चर्चा में रही है। कुलपति ने कहा कि ईरानी की इस बात से यूनिवर्सिटी स्तब्ध है। उन्होंने कहा कि एएमयू के ये सेंटर केंद्र सरकार की मुस्लिमों में शिक्षा का स्तर बढ़ाने की योजना के ही हिस्सा हैं।

एएमयू की अकैडिमक और एग्जिक्युटिव काउंसिल ने एएमयू ऐक्ट के हिसाब से इस योजना को अप्रूव किया था। मई 2010 में एएमयू में राष्ट्रपति के आने के दौरान इसे अंतिम सहमति मिली थी। कुलपति ने कहा कि हमें फंड के अलावा मल्लापुरम (केरल), किशनगंज (बिहार) और मुर्शिदाबाद (पश्चिम बंगाल) में अपने ऑफ कैंपस के लिए स्थाई भवन की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने भी इस दिशा में कुछ नहीं किया। कुलपति ने कहा कि फंड के अभाव में हम लोग योजना के मुताबिक नए डिपार्टमेंट नहीं बना पा रहे हैं। पिछले दिनों कुलपति ने स्मृति ईरानी को एक खत भी लिखा था। इसमें बीएचयू और जामिया की तुलना में काफी कम फंड की बात कही गई थी।

प्रो वीसी अहमद अली ने कहा कि ऑफ कैंपस सेंटरों के लिए भी जितने फंड की व्यवस्था की गई थी, वो भी नहीं मिला। डॉक्यूमेंट के मुताबिक मल्लापुरम के लिए 104.93 करोड़ रुपए की व्यवस्था थी, जबकि मिले 60 करोड़ रुपए। इसी तरह मुर्शिदाबाद के लिए 107.80 करोड़ की जगह 60 करोड़ और किशनगंज के लिए 136.82 करोड़की जगह केवल 10 करोड़ मिले। (NBT)

English Summary

Aligarh Muslim Universities vice chancellor zamir uddin shah has blame Smriti Irani for harming the growth of the university. Vice chancellor shah said that human resource minister smriti irani said to him that off campus of Kerala, Bihar, west Bengal are illegal.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें