नई दिल्ली: संसद में मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा दिया गया भाषण से तूफान की स्थिति खड़ी हो गई है। हालांकि स्मृति की इस स्पीच के बाद पीएम मोदी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करवाया था। साथ ही भाषण के बाद ट्वीट कर कहा था कि ‘सत्यमेव जयते’ वहीं एक रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी के आलाकमान को स्मृति द्वारा दिया गया भाषण नाट्कीय लग रहा है।

रविवार को एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बीजेपी के आलाकमान ने स्मृति के संसद वाली स्पीच को लेकर कहा कि ईरानी को मेलोड्रामा से बचने का आहान किया। इस दौरान न सिर्फ चेताया गया बल्कि जेएनयू मामले को लेकर एक बेलेंस बनाकर चलने को कहा गया।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि अपने भाषण के दौरान भाजपा, ओबीसी के कुछ नेता जो उनका विरोध किर रहे थे। महिषासुर शहादत और “देवी दुर्गा” पर काफी बहस हुई। इस दौरान हाई कमांड को बताया गया कि कुछ समुदायों में महिषासुसर को राक्षस नहीं माना जाता।

इसके बाद JDU के एमपी केसी त्यागी इस बाबत सोमवार को ईरानी के खिलाफ नोटिस जारी करवा सकते हैं। गौरतलब है कि राज्यसभा में स्मृति इरानी ने मां दुर्गा पर कही गई बातों को दोहराया था। स्मृति के उठाए गए मुद्दे से इसके बाद सदन में हंगामा मच गया था। (indiavoicetv)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE