csk
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सिंहस्थ 2016 का घोषणापत्र जारी कर सभी धर्मों, पंथों, संप्रदायों और विश्वास पद्धतियों के प्रमुखों से अपील कि वे धर्म’ के नाम पर की जा रही हर तरह की हिंसा का विरोध करें। उन्होंने धर्म को ‘जोड़ने वाली शक्ति’ बताया।
मोदी ने श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना की मोजुदगी में उज्जैन में चल रहे सिंहस्थ मेले की पृष्ठभूमि में प्रदेश सरकार के आयोजित ‘अंतरराष्ट्रीय विचार महाकुंभ’ के समापन समारोह में ‘सिंहस्थ 2016 के सार्वभौम संदेश’ के शीर्षक से तैयार घोषणापत्र को जारी किया।
यह 51 सूत्रीय घोषणापत्र हैं जिसमे धर्म को जोड़ने वाली शक्ति बताया है। अत: धर्म के नाम पर की जा रही सभी प्रकार की हिंसा का विरोध विश्व भर के समस्त धर्मों, पंथों, संप्रदायों और विश्वास पद्धतियों के प्रमुखों द्वारा किया जाना चाहिए।

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें