महाराष्ट्र विधानसभा से एक विधायक को ‘भारत माता की जय’ नहीं कहने पर निलंबित कर दिए जाने के बाद इसी मुद्दे पर शिरोमणि अकाली दल (अमृतसर) के अध्यक्ष सिमरनजीत सिंह मान ने बयान दिया है। मान ने सोमवार को कहा कि सिख किसी भी रूप में महिलाओं की पूजा नहीं करते, इसलिए ये नारा (भारत माता की जय) नहीं बोल सकते।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक भठिंडा सेंट्रल जेल में अपनी पार्टी के दो कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने के बाद मान ने कहा, ‘बीजेपी के अनुसार जो भारत माता की जय नहीं कहता वो देशभक्त नहीं है, इसलिए उस पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जा सकता है।’

मान ने कहा कि सिख वाहेगुरु जी का खालसा, वाहेगुरु जी की फतेह कहेंगे। मान ने कहा कि बीजेपी को ये भी समझना चाहिए कि सिख वंदे मातरम् भी नहीं कह सकते। साथ ही गीता जैसे धार्मिक ग्रंथों को अन्य धर्मों के लोगों को मानने के लिए नहीं कहना चाहिए जैसा कि बीजेपी शासित हरियाणा में हो रहा है।

बता दें कि ये मुद्दा तब सुर्खियों में आया जब एआईएमआईएम के विधायक वारिस पठान ने महाराष्ट्र विधानसभा में ‘भारत माता की जय’ बोलने से इनकार कर दिया। वारिस पठान ने इसके स्थान पर ‘जय हिंद’ बोलने की बात कही थी। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

Related Posts