हैदराबाद | एक तरफ जहाँ देश नित नए आयाम छु रहा है, जीएसएलवी मार्क 3 की लौन्चिंग पर इतरा रहा है वही अभी भी ऐसे लोग मौजूद है जो अन्धविश्वास को बढ़ावा देने का काम कर रहे है. हैदराबाद में एक ऐसे ही अन्धविश्वास पर यकीन कर लोगो ने नेशनल हाईवे को ही खोद डाला. चौकाने वाली बात यह है की इस काम में स्थानीय नेता ने भी उनका साथ दिया. बाद में अन्धविश्वास फैलाने वाले शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

और पढ़े -   मोदी सरकार रोहिंग्या मुसलमानों के नरसंहार का मुद्दा सयुंक्त राष्ट्र में उठाए: अजमेर दरगाह दीवान

दरअसल तेलंगाना के जनगाँव में रहने वाले मनोज को सपने में शिवलिंग दिखाई दिया. उसका कहना था की नेशनल हाईवे 163 पर करीब 10 फीट नीचे एक शिवलिंग है. यह हाईवे वारंगल से हैदराबाद को जोड़ता है. मनोज पिछले तीन साल से स्थानीय लोगो को यह बात कह रहा था. यही नही जब वह इस हाईवे के उस हिस्से पर आया जहाँ वो शिवलिंग होने का दावा करता था, वो हिलने और नाचने लगता.

और पढ़े -   गुजरात दंगो पर झूठ बोलने को लेकर राजदीप सरदेसाई ने अर्नब गोस्वामी को बताया फेंकू

इस दौरान उसने हर सोमवार हाईवे के किनारे पूजा करनी भी शुरू की. इन तीन सालो में मनोज ने कई बार स्थानीय नेता, पुलिस और सरपंच से समपर्क साधा और उनसे सड़क के उस हिस्से को खोदने की गुहार लगायी. लेकिन तब किसी ने उसका यकीन नही किया. सोमवार को वह किसी तरह इन लोगो को मनाने में कामयाब रहा, इसलिए खुदाई के लिए जेसीबी मशीनो को बुलाया गया.

इसके बाद जेसीबी ने खुदाई शुरू कर दी. इस तरह हाईवे के बीचो बीच खुदाई करने से सड़क के दोनों और कई किलोमीटर लम्बा जाम लग गया. पहले मनोज ने कहा की दस फीट बाद शिवलिंग निकलेगा लेकिन दस फीट खुदने के बाद भी जब कुछ नही निकला तो उसने पांच फीट और खोदने के लिए कहा. इसके बाद भी कोई शिवलिंग नही निकला. कोई भी कामयाबी मिलता न देख पुलिस ने कार्यवाही शुरू की और मनोज एवं स्थानीय नेता को पकड़कर ले गयी.

और पढ़े -   अमित शाह ने नरोदा गाम दंगे मामले में किया माया कोडनानी का बचाव

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE