मुंबई। इशरत जहां मामले को लेकर पैदा विवाद के बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें मुद्दे की कोई जानकारी नहीं थी क्योंकि कोई फाइल उनके पास नहीं आई थी। शिंदे ने यहां प्रेट्र से कहा कि मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

इशरत जहां मामले की फाइल कभी मेरे पास नहीं आई। पूर्व एनआईए अधिकारी लोकनाथ बेहरा की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर शिंदे ने कहा कि पूर्व एनआईए अधिकारी सहित इस प्रकार के सभी दावे बेबुनियाद हैं।

और पढ़े -   तेज बहादुर की पीएम मोदी को चेतावनी - सही जांच कराओ वरना हथियार उठा लूँगा

शिंदे ने कहा कि कोई मेरे पास नहीं आया और इस मामले के बारे में मेरी किसी से बात नहीं हुई। वे संप्रग 2 सरकार में जुलाई 2012 से मई 2014 तक गृह मंत्री थे। शिंदे की टिप्पणियां उन आरोपों की पृष्ठभूमि में आई हैं जिनमें कहा गया था कि गत कांग्रेस की अगुवाई वाली संप्रग सरकार ने इशरत जहां के कथित आतंकी संपर्को पर हेडली की गवाही में जोड़तोड़ की कोशिश की थी।

और पढ़े -   मस्जिद में आग लगाने की कोशिश, नाबालिग को किया गया गिरफ्तार

केरल कैडर के आईपीएस अधिकारी बेहरा उस एनआईए टीम में शामिल थे जो वर्ष 2010 में हेडली से पूछताछ करने के लिए अमेरिका गई थी। उन्होंने कहा है कि उन्हें ठीक से याद नहीं है कि हेडली ने इशरत के बारे में क्या कहा था।

लेकिन जब पिछले दिनों उन्होंने मुंबई की अदालत में हेडली की वीडियो गवाही के बारे में सुना था तो उन्हें वही बात याद आ गई, जो हेडली ने वर्ष 2010 में एनआईए टीम को बताई थी। (samacharjagat)

और पढ़े -   स्वामी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा - अयोध्या मामलें की जल्द सुनवाई का लेंगे फैसला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE