पटना | बीजेपी के फायरब्रांड नेता और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा आजकल मोदी सरकार और अपनी ही पार्टी से खफा चल रहे है. यही कारण है की वो आये दिन पार्टी लाइन से अलग बयान देते रहते है. कई बार वो विपक्षी नेताओं की तारीफ में कसीदे भी पढ़ चुके है. लेकिन इस बार उन्होंने मोदी सरकार की उस उपलब्धि पर ही सवाल उठा दिए जिसका उन्होंने बड़े ही भव्य समारोह कर जश्न मनाया.

जी हाँ, आप बिलकुल सही समझे है. हम जीएसटी की ही बात कर रहे है. मोदी सरकार ने 30 जून की आधी रात को भव्य समारोह में इस नयी टैक्स प्रणाली को लागु कर दिया. मोदी सारकार जीएसटी को आजादी के बाद का सबसे बड़ा आर्थिक सुधार बता रहे है लेकीन शत्रुघ्न का कुछ और ही मानना है. उन्होंने जीएसटी पर सवाल उठाते हुए कहा की जिस देश में सभी लोगो के पास PAN कार्ड भी न हो वहां जीएसटी लागु करना कितना सही है?

और पढ़े -   ईद-उल-अजहा पर मुसलमान बेखौफ होकर करें कुर्बानी: मौलाना अरशद मदनी

रेडिफ.कॉम वेबसाइट के अनुसार शत्रुघन सिन्हा ने जीएसटी को सही नही मानते हुए कहा की ज्यादातर भारतीय जीएसटी के बारे में नही जानते है. इस देश में सभी लोगो के पास अभी तक डिजिटल क्रांति नही पहुंची है. देश की आबादी का अभी भी एक बड़ा हिस्सा ऐसा है जो डिजिटल बैंकिंग और टैक्सेशन के बारे में नही जानता. अगर इन सब बातो को भी दरनिकार करे तो अभी भी सभी लोगो के पास PAN कार्ड भी नही है.

और पढ़े -   ओबीसी आरक्षण पर बड़ा फैसला: केंद्र ने क्रीमीलेयर सीमा को 6 लाख से 8 लाख सालाना किया

शत्रुघ्न ने बड़े ही तंज भरे लहजे में मोदी और जेटली पर सवाल उठाते हुए कहा की मैं आश्वस्त हूँ की मोदी जी और जेटली जी इस बात से अच्छी तरह वाकिफ है की वो क्या कर रहे है. लेकिन मैं इस बात आश्वस्त नही हूँ की लोग बड़े पैमाने पर इस बदलाव के लिए तैयार है या नही. हालाँकि मैं उम्मीद करता हूँ की लोग इस बदलाव को स्वीकार करेंगे लेकिन हम पहले भी जल्दबाजी में किये गए आर्थिक सुधारो के हश्र देख चुके है. लेकिन उम्मीद करता हूँ की इस बार ऐसी स्थिति पैदा न हो.

और पढ़े -   भारत के 27 हाजियो की सऊदी अरब में हुई मौत - हज कमेटी आफ इंडिया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE