बंगलौर | AIADMK प्रमुख शशिकला नटराजन , आय से अधिक संपत्ति रखने के आरोप में जेल जा चुकी है. उनको सुप्रीम कोर्ट ने 4 साल कैद की सजा सुनाई है. शशिकला को बंगलौर की पारप्पना अग्रहारा जेल में रखा गया है. वहां उनके साथ बाकी कैदियों की तरह ही व्यव्हार किया जा रहा है. हालाँकि उन्होंने जेल में वीआईपी सुविधाए देने की मांग की थी लेकिन अदालत ने उनकी यह अर्जी ठुकरा दी.

और पढ़े -   अब गाय के गोबर और मूत्र पर शोध करवाएगी मोदी सरकार, हर्षवर्धन की अध्यक्षता में हुआ कमिटी का गठन

हालांकि शशिकला पिछले दो दिनों से जेल में है लेकिन वो अभी भी खुद को जेल के माहौल में नही ढाल पा रही है. उनको अभी भी उम्मीद है की उनके साथ वीआईपी के जैसे व्यव्हार किया जायेगा. बंगलौर मिरर की खबर के अनुसार शशिकला ने जेल परिसर में जाने के लिए जीप में बैठना पसंद नही किया. उहोने पुलिस से कहा की वो चोर नही है जो पुलिस जीप में बैठेगी.

और पढ़े -   कोलकाता बना कश्मीर, पुलिस बलों के साथ वामपंथियों की मारपीट और पत्थरबाजी

खबर अनुसार शशिकला ने पुलिस से कहा की चाहे परिसर कितनी भी दूर है , वो पैदल ही चलेगी. इसलिए वो पैदल चलकर ही परिसर पहुंची. सूत्रों ने अख़बार को बताया की जेल में शशिकला को एक सफ़ेद साड़ी दी गयी लेकिन उन्होंने वो भी पहनने से इनकार कर दिया. उनका कहना था की साडी उनके ब्लाउज से मैच नही कर रहा इसलिए वो इस साडी को नहीं पहन सकती.

शशिकला जिस सेल में रखी गयी है वहां उनके साथ उनकी रिश्तेदार इलावरासी को भी रखा गया है. वो केवल उन्ही से बात कर रही है. शशिकला से मिलने उनकी पार्टी के काफी लोग पहुँच रहे है लेकिन वो किसी से नही मिल रही है. जेल अधिकारियो के अनुसार शशिकला की जेल में पहली रात जागकर कटी. बताया गया की शशिकला के स्वास्थ्य को देखते हुए उन्हें सोने के लिए एक खाट दी गयी है.

और पढ़े -   अंतराष्ट्रीय न्यायालय में कुलभूषण जाधव का मामला उठाना भारत की सबसे बड़ी गलती - काटजू

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE