मुंबई: वित्त मंत्री अरुण जेटली के भाषण के बीच घरेलू शेयर बाजारों में चौतरफा बिकवाली का जोर देखा जा रहा है। जेटली के ग्रामीण सुधारों को ध्यान में रखकर पेश किए बजट के चलते बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के सूचकांक सेंसेक्स ने जबरदस्त गोता खाया और यह 650 अंक तक लुढ़क गया। हालांकि 12 बजकर 58 मिनट पर बाजार में स्टॉक्स में खऱीददारी देखी जा रही है। बैंकिंग सेक्टर के अलावा मेटल, ऑयल ऐंड़ गैस और हेल्थकेयर स्टॉक्स में खऱीददारी देखी जा रही है।

बजट डे पर निराश हुआ बाजार, 650 अंकों का गोता खाकर थोड़ा संभला सेंसेक्स12 बजकर 31 मिनट पर सेंसेक्स 652 अंक डूबकर 22,502.50 के स्तर पर आ गया। वहीं निफ्टी 201 अंक लुढ़ककर 6,828 के स्तर पर आ गया।

कारोबारी सप्ताह के पहले दिन बजट को समर्पित दिन में जहां सुबह से शेयर बाजारों में रेड जोन में कारोबार हो रहा था, वहीं अरुण जेटली की बजट स्पीच शुरू होने के चंद मिनट बाद सेंसेक्स और निफ्टी ग्रीन जोन में आ गए। 12 बजकर 20 मिनट पर सेंसेक्स में 292 अंकों यानी 1.26 की गिरावट आ गई और यह 23,058 के स्तर पर देखा गया। वहीं, निफ्टी 33 अंक गिरकर 6,997 के स्तर पर आ गया।

सभी सेक्टरों में बिकवाली का जोर देखा जा रहा है। आईटी स्टॉक्स में सबसे अधिक बिकवाली देखी जा रही है। 1.6  फीसदी गिरावट के साथ बीएसई का आईटी इंडेक्स सबसे अधिक गिरावट वाले सेक्टर्स में आ गया। FMCG और कैपिटल गुड्स में भी तेज गिरावट देखी जा रही है।

सुबह 11 बजकर 43 मिनट पर सेंसेक्स में  96 अंकों की गिरावट आ गई और यह 23,058 के स्तर पर देखा गया। वहीं, निफ्टी 33 अंक गिरकर 6,997 के स्तर पर आ गया।

11 बजकर 15 मिनट के करीब सेंसेक्स 46 अंक तेजी चढ़कर 23,200 के स्तर पर पहुंच गया। वहीं, निफ्टी 9 अंक बढ़कर 7,038 पर आ गया। बजट में कृषि क्षेत्र में विकास के मद्देजनर किए गए फैसलों के बीच फर्टिलाइजर कंपनियों के स्टॉक्स में तेजी देखी गई।

बजट पेश होने से पहले तक लाल निशान पर खुले शेयर बाजारों में उठापटक देखी जा रही थी। विदेशी कोषों की ओर से पूंजी निकासी बरकरार रहने और खुदरा निवेशकों द्वारा सतर्कता बरतने के बीच बाजार में नरमी का रुझान देखा गया। साथ ही रुपए में कमजोरी देखी गई।

करीब 10 बजकर 58 मिनट पर रुपए में 3 पैसे की ओर गिरावट देखी गई और यह 68.65 प्रति डॉलर के स्तर पर देखा गया। वहीं, 10:57 मिनट पर सेंसेक्स 25 अंक और निफ्टी 10 अंक और नीचे गिर गया।

सुबह 10 बजकर 5 मिनट पर सेंसेक्स 0.27 फीसदी यानी 62 अंकों की गिरावट के साथ 23,092 के स्तर पर देखा गया जबकि निफ्टी 0.32 फीसदी यानी 22 अंकों की गिरावट के साथ 7,008 के स्तर पर देखा गया।

सेंसेक्स 50 अंकों की गिरावट के साथ खुला जबकि निफ्टी 7000 के इर्द गिर्द खुला।  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स सुबह 9 बजकर 27 मिनट पर 37 अंकों की गिरावट के साथ 23,118 के स्तर पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का इंडेक्स निफ्टी 14 अंकों की गिरावट के साथ 7015 पर खुला है।

शेयरों में उठापटक जारी…
निफ्टी सूचकांक में 28 स्टॉक्स गिरावट के साथ कारोबार करते देखे जा रहे हैं जबकि 22 स्टॉक्स में लिवाली देखी जा रही है।  BPCL, ITC, GAIL इंडिया , बजाज ऑटो, हीरो मोटोकॉर्प,अदानी पोर्ट्स, सिपला, बॉश, आइडिया सेलुलर और हिन्दुस्तान यूनिलीवर के स्टॉक्स में रेड जोन में कारोबार हो रहा है। ये स्टॉक्स 1.14-2 फीसदी के लगभग गिरावट पर देखे जा रहे हैं। स्टेट  बैंक ऑफ इंडिया, हिंडाल्को, डॉक्टर रेडीज लैब, वेदांता, ONGC, ICICI बैंक के शेयर हरे निशान पर देखे जा रहे हैं।

बंबई शेयर बाजार का सूचकांक जो आर्थिक समीक्षा में 2016-17 के लिए 7-7.5 प्रतिशत वृद्धि के अनुमान के बाद शुक्रवार के कारोबार के दौरान 178.30 अंक चढ़ा था।

कारोबारियों ने कहा कि बजट पेश होने से पहले खुदरा निवेशकों की ओर से बिकवाली और विदेशी कोषों द्वारा बजट से पहले निकासी बरकरार रखने के मद्देनजर बाजार पर दबाव पड़ा।

रुपए ने की कमजोर शुरुआत…
रुपया अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार (फॉरेक्स) में आज के शुरुआती कारोबार में 12 पैसे टूटकर 68.74 पर पहुंच गया। आयातकों और बैंकों की ओर से डॉलर की मांग बढ़ने से भारतीय मुद्रा पर दबाव रहा।

कारोबारियों ने कहा कि विदेशी बाजारों में कुछ वैश्विक मुद्राओं के मुकाबले डॉलर में मजबूती और घरेलू शेयर बाजार में शुरआती नरमी के बीच रुपया टूटा। रुपया शुक्रवार के कारोबार में 10 पैसे टूटकर 68.62 पर बंद हुआ।

बजट के बाद बाजार में देखी जा सकती है रैली
जानकारों की राय में, सरकार के कुछ कदम सेंसेक्स और निफ्टी में आज रैली का कारण बन सकते हैं। यदि सरकार ने वित्तीय घाटे, सब्सिडी और टैक्स पर बाजार  को निराश नहीं किया तो शेयर बाजार ऊंची छलांग लगा सकते हैं। इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए अधिक रकम का बंटवारा, कॉरपोरेट टैक्स पर उम्मीदों पर खरा उतरना, और आर्थिक सुधारों को लेकर रिफॉर्म्स का स्पष्ट रोड मैप तैयार हुआ तो निश्चित तौर पर बाजार आज ऊंची छलांग लगा सकते हैं, ऐसा कारोबारियों का मानना है। (NDTV)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें