जाट आंदोलन के बाद ऊंच वर्ग के लोगों ने आरक्षण की मांग की है। ऊंच वर्ग के इन लोगों ने कानपुर में अर्धनग्न होकर पर्दशन किया और आरक्षण की मांग की।

बता दें कि इससे जयपुर में 22 फरवरी को राजपूत समाज के लोगों ने भी आरक्षण को लेकर अपनी आवाज बुलंद की थी और प्रदर्शन किया था। राजपूतों के अग्रणी संगठन श्री राजपूत करणी सेना ने देशव्यापी स्तर आरक्षण आंदोलन शुरू करने की चेतावनी दी है।

और पढ़े -   देश में हिंदू आएं तो शरणार्थी, मुस्लिम आएं तो आतंकवादी: स्वामी अग्निवेश

गौरतलब है कि जाट आंदोलन के कारण पहले ही 34 हजार करोड़ से ज्यादा का नुकसान हो चुका है। 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। सैंकड़ों घर तबाह हो चुके हैं। दुकाने उजाड़ दी गई हैं। (News24)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE