प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा रेलमंत्री बदलने के बाद भी ट्रेन हादसों का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. सोनभद्र में गुरुवार सुबह हावड़ा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस के 7 डिब्बे पटरी से उतर थे. अब दिल्ली में रांची से आ रही राजधानी एक्सप्रेस शिवाजी ब्रिज के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्रेन का इंजन और कोच पटरी से उतरा है. हालांकि किसी नुकसान की कोई खबर नहीं है. सोमवार को पीयूष गोयल के रेल मंत्री का पद संभालने के बाद ही ये एक ही दिन में दूसरा रेल हादसा है.

और पढ़े -   हिन्दू से मुस्लिम बनी दलित दंपत्ति को मिल रही जान से मारने की धमकी, पत्र लिख योगी सरकार से की सुरक्षा की मांग

ध्यान रहे आज सुबह उत्तर प्रदेश के सोनभद्र इलाके में हावड़ा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे ओबरा डैम के पास पटरी से उतरे. हादसा सुबह 6 बजे ओबरा डैम स्टेशन से 25 मीटर पेश आया. यह इलाका उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश के बॉर्डर पर लगा हुआ है. हादसे में 12 से 15 लोग जख्मी हुए.

बीते तीन हफ्तों में यह चार रेल हादसे हो चुके हैं. इससे पहले उत्तर प्रदेश में 19 अगस्त को मुज़फ्फरनगर के खतौली के पास बड़ा रेल हादसा हुआ था. कलिंग उत्कल एक्सप्रेस की 14 बोगियां पटरी से उतर गई थीं. इस हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई जबकि दर्जनों अन्‍य घायल हो गए थे.

और पढ़े -   मोदी सरकार ने SC में दाखिल किया हलफनामा, कहा - रोहिंग्‍या से देश की सुरक्षा को खतरा

वहीं खतौली हादसे के पांच दिनों के भीतर 23 अगस्त को दूसरा हादसा हुआ था, जब आजमगढ़ से दिल्ली आ रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस औरैया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी. इसके अलावा महाराष्ट्र के टिटवाला में भी रेल हादसा हुआ था. नागपुर-मुंबई दुरंतो एक्सप्रेस के नौ डिब्बे पटरी से उतर गए थे. इस ट्रेन में कुल 18 डिब्बे थे. यह दुर्घटना उस समय हुई जब अधिकतर यात्री सो रहे थे.

और पढ़े -   गाय पर आस्था रखने वाले लोग हिंसा नहीं करते: मोहन भागवत

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE