नई दिल्ली : बीते साल अभिनेता आमिर ख़ान ने जब ‘असहिष्णुता’ की वजह से अपनी पत्नी किरन राव के भारत में रहने पर डर जताने का ज़िक्र किया था तो उन्हें काफ़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था। आमिर को इसके लिए अभी तक सोशल मीडिया पर भद्दे शब्दों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन अब अभिनेता अनुपम खेर ने एक और ही पहलू में भारत की मौजूदा स्थिति को लेकर अपना डर जताया है। बता दें कि अनुपम खेर का नाम इस साल पद्म भूषण अवॉर्ड से सम्मानित लोगों की सूची में शामिल है।

After the removal of Article 370 K Suljengi: Anupam Kher

एक मीडिया हाउस से इंटरव्यू के दौरान खेर ने अपनी धार्मिक पहचान को ज़ाहिर करने पर अपने डर का ज़िक्र किया। अनुपम खेर से पूछा गया था कि देश की मौजूदा स्थिति को लेकर बॉलिवुड की कुछ हस्तियों के डर जताने पर आप क्या कहना चाहेंगे? इस सवाल के जवाब में अनुपम खेर ने कहा कि उनके पेशे में हर कोई डरा हुआ है, जिसमें वो खुद भी शामिल हैं। अनुपम खेर से जब इसे और स्पष्ट करने को कहा तो उन्होनें कहा, “मुझे ये कहते हुए डर लगता है कि मैं हिंदू हूं। और अगर मैं माथे पर तिलक लगाना शुरू कर दूं या भगवे कपड़े पहनना शुरू कर दूं तो लोग मुझे आरएसएस से जुड़ा या बीजेपी का कट्टर समर्थक कहना शुरू कर देंगे।”

कुछ दिन पहले अनुपम खेर की ट्विटर पर इस बात के लिए खिंचाई की गई थी कि उन्होंने 2010 में पद्म अवॉर्ड्स की आलोचना की थी लेकिन इस साल जब उन्हें खुद पद्म भूषण मिला तो उनका स्टैंड बदल गया। इस पर अनुपम खेर ने स्पष्ट किया कि 2010 में एक ऐसे अभिनेता को पद्म अवॉर्ड दिया गया था जिसके खिलाफ आपराधिक मुकदमे लंबित थे। (News 24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें