मेट्रो में बेहोश होकर गिरने वाले दिल्ली के पुलिसकर्मी को सुप्रीम कोर्ट ने मुआवजा देने से इनकार कर दिया है। दिल्ली पुलिस के एक कर्मचारी सलीम पी के का एक विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वह मेट्रो में बेहोश होकर गिरते नजर आ रहे हैं।

 दिल्ली पुलिस के सलीम को सुप्रीम कोर्ट ने मुआवजा देेने से इन...लोगों का कहना था कि वह शराब के नशे में थे, जबकि सलीम के मुताबिक उनके साथ बीमारी की वजह से ऐसा हुआ था। अपनी छवि खराब होने का हवाला देकर सलीम ने कोर्ट से मुआवजे की मांग की थी।

इस विडियो के खिलाफ 9 मार्च को सलीम ने कोर्ट में याचिका दायर की थी। इस याचिका में सलीम ने अपनी स्वास्थ्य संबंधी जानकारी देते हुए बताया कि उनके दिमाग में ब्लॉकेज की वजह से वह बेहोश होकर गिर गए थे।

जस्टिस जे एस खेहर और सी नागप्पन की एक बेंच ने शुक्रवार को फैसला सुनाते हुए कहा कि विडियो के साथ किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की गई थी और वह पूरी तरह से वास्तविक था। इसलिए विडियो बनाने वाले ने किसी भी तरह का अपराध नहीं किया। फलस्वरूप, सलीम किसी भी तरह के मुआवजे के अधिकारी नहीं हैं।

सलीम के वकील मैथ्यूज का कहना था कि इस विडियो के वायरल होने की वजह से सलीम की छवि को काफी नुकसान पहुंचा है। सलीम ने बताया कि उनके परिवार वालों को भी इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। उनके बच्चे पर भी इस बात को लेकर कॉलोनी में तंज कसे जाते रहे हैं।

यह घटना पिछले साल 19 अगस्त की है। विडियो सामने आने के बाद 24 अगस्त को उन्हें बर्खास्त कर दिया गया था और स्पष्टीकरण देने के लिए भी कहा गया था। हालांकि, असलियत सामने आने के बाद उन्हें काम पर वापस बुला लिया गया था। (NBT)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें