guj

वर्ष 2002 में गुजरात में आणंद जिले के ओडे गांव में 23 मुसलमानों को जिंदा जलाने के आरोपियों में से एक समीर पटेल को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया हैं. उसे विशेष जांच दल (एसआईटी) वापस लेने जायेगी.

समीर पटेल जमानत पर रिहा होने के बाद से ही फरार था. गांधीनगर स्थानीय अपराध शाखा के इंस्पेक्टर और एसआईटी सदस्य एके परमार ने कहा कि ओडे दंगा मामले के आरोपी समीर पटेल को लंदन पुलिस ने गिरफ्तार किया है. वह जमानत पर बाहर आने के बाद फरार हो गया था.

परमार ने बताया कि लंदन में उसके होने का पता चलने के बाद उसके खिलाफ एक रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था. परमार सहित एसआईटी के तीन अधिकारी उसकी हिरासत लेने के लिए कल लंदन रवाना होेंगे.  इस मामले में दो अन्य आरोपी नातू पटेल और राकेश पटेल अब भी फरार हैं.

एक मार्च 2002 को ओडे गांव के पीरवाली भागोल इलाके में 1500 लोगों से ज्यादा की भीड़ ने मुस्लिम समुदाय के एक घर में 23 लोगों को जिंदा जला दिया था जिसमें नौ महिलाएं, नौ बच्चे और पांच पुरूष थे. इसके अलावा 2 मार्च को गांव के ही अन्य इलाके में चार और व्यक्तियों की हत्या कर दी गई थी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें