नागपुर | प्रधानमंत्री मोदी की कड़ी प्रतिक्रिया के बावजूद कथित गौरक्षक अपनी गुंडागर्दी से बाज नही आ रहे है. मोदी के बयान के बाद भी देश में कई ऐसी घटनाएं हो चुकी है जिसमे गौरक्षा के नाम पर कई लोगो को या तो बेरहमी से पीटा गया या मौत के घाट उतार दिया गया. बुधवार को नागपुर में एक मुस्लिम शख्स , कथित गौरक्षको की ऐसी ही गुंडागर्दी का शिकार बना.

सलीम इस्माइल शाह नाम के इस शख्स को 5-6 लोगो ने गौमांस ले जाने के शक में बेरहमी से पीटा. इस पिटाई से सलीम के गले चहरे पर गंभीर चोटे आई है. उधर पुलिस ने मामले में कार्यवाही करते हुए 4 लोगो को गिरफ्तार किया है. नागपुर ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक शैलेष बलकावडे ने बताया की कटोल निवासी सलीम को कुछ लोगो ने भारसिंगी गांव के बस स्टॉप पर रोक लिया. उस समय सलीम मोटरसाइकिल से अपने घर जा रहा था.

और पढ़े -   भारत के 27 हाजियो की सऊदी अरब में हुई मौत - हज कमेटी आफ इंडिया

पुलिस के अनुसार आरोपियों ने सलीम से मीट दिखाने को कहा जिसका उसने विरोध किया. इसके बाद आरोपियों ने सलीम पर गौमांस ले जाने का आरोप लगा उसके साथ मारपीट शुरू कर दी. इस घटना की एक विडियो भी सामने आई है. विडियो में साफ़ देखा जा सकता है की कुछ लोग सलीम को बेहरहमी से पीट रहे है. यहाँ तक की सलीम को सड़क पर घसीट घसीटकर लात घुसो से मारा गया.

और पढ़े -   अमित शाह को जेल पहुँचाना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी उपलब्धि: राणा अय्यूब

अब इस मामले में एक चौकाने वाला खुलासा हुआ है. सलीम की माँ का दावा है की उसका बेटा बीजेपी से जुड़ा हुआ है और कटोल तहसील के बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चे का प्रमुख है. इस बात की पुष्टि यहाँ के एक स्थानीय बीजेपी नेता ने भी की है. उसने माना है की सलीम बीजेपी का सदस्य है. उधर खबर है की पुलिस ने जिन चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है उनमे से एक स्थानीय निर्दलीय विधायक के लिए काम करता है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE