नई दिल्ली | आजकल सोशल मीडिया पर भी कमाल की प्रतिस्पर्धा चल रही है. हर राजनितिक दल के समर्थक इस मंच का सहारा लेकर अपने नेताओं को तारीफ करते है और विपक्षी नेताओं की खिंचाई.  इस दौरान कुछ पार्टी या व्यक्ति समर्थक भी लपेटे में आ जाते है. चूँकि एक से बढ़कर एक एक्सपर्ट इस मंच का इस्तेमाल करते है इसलिए यहाँ सच्चाई ज्यादा देर तक छुपी नही रह सकती.

यही कारण है की झूठ को इस मंच से प्रसारित तो किया जा सकता है लेकिन छुपाया नही जा सकता. अभी बीजेपी सांसद और अभिनेता परेश रावल के साथ भी ऐसा ही हुआ जब उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति कलाम को लेकर एक फर्जी तस्वीर पोस्ट कर दी. इसके बाद परेश रावल की यूजर्स ने खूब खिंचाई की. कुछ ऐसी ही घटना मोदी के घोर समर्थक सद्गुरु के साथ भी घटित हुई.

और पढ़े -   दलाल बन गए बेरोजगार, वे ही कर रहे हल्ला और कह रहे रोजगार नहीं है: पीएम मोदी

दरअसल सद्गुरु ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर मोदी के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ तारीफ करते हुए एक विडियो पोस्ट किया.  इस विडियो में एक हाथी को अपनी सूंड से कूड़े को उठाकर डस्ट बिन डालते हुए दिखाया गया है. इसलिए कैप्शन में सद्गुरु ने लिखा की अब जानवर भी मोदी जी के स्वच्छ भारत अभियान से प्रेरित हो गए है. हालाँकि ट्वीट में यह नही बताया गया की यह विडियो भारत में किस जगह का है.

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस पर चीनी सेना की लद्दाख में घुसपैठ, भारतीय सैनिकों पर भी किया पथराव

मोदी की प्रशंसा में किये गए इस ट्वीट को उनके समर्थको ने तुरंत शेयर करना शुरू कर दिया. जिससे यह थोड़ी ही देर में वायरल हो गया. लेकिन सच को ज्यादा देर तक नही छुपाया जा सका. कुछ एक्सपर्ट्स ने इस विडियो का श्रोत बताते हुए लिखा की यह 2015 का विडियो है जो दक्षिण अफ्रीका के क्रूगर नेशनल पार्क में शूट किया गया. इस हाथी के बारे में डेली मेल में भी एक लेख लिखा गया है. विडियो की सच्चाई बाहर आने के बाद यूजर ने सद्गुरु को ट्रोल करना शुरू कर दिया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE