tauqueer-raza

नई दिल्ली हाल ही में जैश-ए-मुहम्मद से सबंध रखने के आरोप में दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए मुस्लिम लड़कों को सबूतों के अभाव में छोड़े जाने के बाद बरेलवी मसलक के मौलाना तौक़ीर अहमद रजा देवबंद स्थित शाकिर के घर पहुंचे. शाकिर भी दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार लडको में शामिल था.

इसी दौरान उन्होंने दारुल उलूम देवबंद के मुफ़्ती अब्दुल कासिम नोमानी से भी मुलाकात की. दिल्ली पुलिस द्वारा की गई गिरफ़्तारी को उन्होंने RSS की साजिश बताया. उन्होंने कहा कि ख़ुफ़िया एजेन्सी RSS के इशारो पर काम कर रही हैं. चाहे दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल हो या एनआईए ये मुसलमानों के खिलाफ पक्षपाती रवैय्या अपनाती रही हैं.

और पढ़े -   झूठा है डॉ. कफील पर लगा बलात्कार का आरोप, यह रहा सुबूत

शाकिर अंसारी की गिरफ़्तारी पर उन्होंने कहा कि शाकिर का क्या कसूर था ? गिरफ्तारी के समय ठोस सबूत को दिखाया जाना था. उन्होंने सभी मुसलमानों से अपील करते हुए कहा कि अब मुसलमानों को आपसी मतभेद भुलाकर एक हो जाना चाहिए.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE