राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने गुरुवार को 2 जुलाई को दी जाने वाली ‘इफ्तार पार्टी’ से अपना पल्ला झाड लिया हैं. इफ्तार पार्टी से खुद को अलग करते हुए आरएसएस ने कहा कि वह किसी भी प्रकार की इफ्तार पार्टी आयोजित नहीं कर रहा हैं.

आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने कहा, ‘आरएसएस द्वारा इफ्तार पार्टी का आयोजन करने की मीडिया की खबरें तथ्यात्मक रूप से गलत हैं. हम ऐसी किसी भी पार्टी का आयोजन नहीं कर रहे हैं’ उन्होंने आगे कहा इफ्तार का आयोजन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) कर रहा है. यह राष्ट्रीय जागरुकता पैदा करने वाला एक स्वतंत्र मुस्लिम संगठन है.’

और पढ़े -   कार्यकाल की समाप्ति से पहले राष्ट्रपति ने 2 बलात्कारियों की दया याचिका ठुकराई

एमआरएम की इफ्तार पार्टी के आरएसएस के समर्थन पर  वैद्य ने कहा, ‘वे मुसलमान हैं जो मुसलमानों के लिए इफ्तार का आयोजन कर रहे हैं. हमें उससे क्या करना है और हमें कोई आपत्ति क्यों होगी?’ माना जा रहा हैं कि आरएसएस ने खुद को इफ्तार पार्टी से हिन्दू महासभा के विरोध के कारण अलग किया हैं.

गोरतलब रहें कि अखिल भारतीय हिन्दू महासभा ने इस इफ्तार पार्टी को लेकर आरएसएस पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया था.

और पढ़े -   एम्बुलेंस के लिए रोका राष्ट्रपति के काफिला, पूरा देश कर रहा है इस यातायात अधिकारी को सलाम

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE