indr

यूपी में मुस्लिम वोटर्स को लुभाने और भाजपा की मुस्लिम विरोधी छवि को दुरुस्त करने के लिए संघ परिवार ताज नगरी आगरा में राष्ट्रीय स्तर पर मुस्लिम सम्मलेन करने जा रहा हैं. यह सम्मेलन 27 नवंबर को होगा. इसके लिए तीन नवंबर को दिल्ली में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की बैठक होगी.

सम्‍मेलन में बड़ी संख्‍या में उलमा-ए-इकराम को बुलाने के लिए दावत नामे भेजे जा चुके हैं. साथ ही मुस्‍लिम बुद्धजीवियों को भी सम्‍मेलन में लाने की तैयारी की जा रही हैं. इस सम्मलेन में मुस्‍लिम मंच के अपने संगठन उलेमा संगठन, महिला संगठन, गौपालक और बुद्धजीवी संगठन भी मौजूद रहेंगे. इस सम्मलेन में तीन तलाक का मुद्दा भी उठ सकता है.

सम्मलेन करने के पीछे दावा किया जा रहा हैं कि  मुस्‍लिम मंच के जरिये मुसलमान यह बताना चाहते हैं कि अगर हमारे विकास और सुरक्षा की बात भाजपा भी करती है तो हमे उसके साथ आने में कोई ऐतराज नहीं है. सम्मलेन में सूफी और देवबंदी उलेमाओं भी शामिल होंगे.

इस सम्मेलन में गैरराजनीतिक रखा गया हैं. लेकिन राजनीतिक दलों को खुला निमंत्रण भी भेजा जाएगा. मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के उलेमा विंग के यूपी सदर मौलाना कोकब ने बताया 27 का आयोजन एतिहासिक होगा. देश की दो प्रमुख दरगाह अजमेर शरीफ और कलियार शरीफ के सज्‍जादानशींन इस सम्मलेन का प्रमुख हिस्सा होंगे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें