सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालय में तिरंगा झंडा फहराए जाने के सरकार के दिशा-निर्देशों पर पलटवार करते हुए JNU की छात्र संघ की उपाध्यक्ष शहला राशिद ने कहा कि पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) अपने मुख्यालय पर भगवा झंडे के बजाय राष्ट्रीय ध्वज फहराए।

shehla-rashid

राशिद ने जेएनयू को देशद्रोहियों का गढ़ बताने वाले लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी देशभक्ति पर सवाल खड़े करने वाले ऐसे लोगों की खुद की कोई विश्वसनीयता नहीं है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, हम राष्ट्रीय ध्वज फहरा रहे है और जेएनयू में राष्ट्रीय ध्वज ऊंचा लहराता रहेगा लेकिन पहले आरएसएस अपने मुख्यालय से भगवा झंडा उतार कर वहां तिरंगा क्यों नहीं फहराता।

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किए जाने के बारे में उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और संघ झूठे आरोप लगा रहा है। उन्होंने कहा कि कन्हैया कुमार के खिलाफ सभी दृश्य-श्रव्य सबूतों को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है और वह निर्दोष है। (hindkhabar)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें