बदायूं: बीजेपी की युवा शाखा के एक नेता ने उस शख्स को पांच लाख रूपए का ‘ईनाम’ देने की घोषणा की है जो जेएनयू छात्र कन्हैया कुमार की जीभ काटकर लाएगा। यह घोषणा करने वाले कोई और नहीं बदायूं जिले में भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रमुख कुलदीप वार्शणे हैं जिन्हें पार्टी की जिला इकाई से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है। भाजपा जिलाध्यक्ष हरीश शाक्य ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा ‘वार्शणे ने कन्हैया के खिलाफ जो भी विवादास्पद बयान दिया, उसका पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। यह उनका निजी बयान है। कुलदीप वार्शणे को छह साल के लिए प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित किया गया है।’

और पढ़े -   झारखंड हत्याकांड पर पत्रकार सागरिका घोष ने कहा - भारत सरकार जागो, भीड़ मुसलमानों को मार रही

कन्हैया की जीभ काटने पर 'ईनाम' देने का ऐलान करने वाला बीजेपी युवा नेता सस्पेंड‘देश का अपमान किया था’
वार्शणे का आरोप है कि कन्हैया ने जेल से बाहर आने के बाद जो भाषण दिया था, उसमें इस छात्र ने बीजेपी, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अपमान किया था। वार्शणे का कहना है कि कन्हैया की टिप्पणियों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता इसलिए इस ईनाम की घोषणा की गई है। खुद को एक आज्ञाकारी नागरिक बताने वाले वार्शणे ने मीडिया से बातचीत में कहा ‘कन्हैया ने अपने दिए भाषण में आरएसएस, भाजपा, पीएम नरेंद्र मोदी और देश का अपमान किया है। एक कर्तव्यनिष्ठ नागरिक होने के नाते मैं यह बर्दाश्त नहीं कर सकता।’ भाजपा जिलाध्यक्ष शाक्य ने बताया कि वार्शणे को युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष पद से हटाने का नोटिस जारी कर अंकित मौर्य को कार्यवाहक जिलाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। (NDTV)

और पढ़े -   गौरक्षको पर बोले गडकरी, गौरक्षा के नाम पर नही होनी चाहिए हिंसा, नही है हमारे लोग

English Summar

BJP has suspended his youth district president Kuldeep Varshney for 6 years for giving controversial statement on kanhaiya kumar.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE