अंजनादेवी 74 साल की थीं और सोमवार को नींद के दौरान दिल के दौरे ने उनकी जान ले ली। अंजनादेवी ने रोहित की मां राधिका को गोद लिया था।

हैदराबाद यूनिवर्सिटी के आत्‍महत्‍या करने वाले स्‍कॉलर रोहित वेमुला की नानी बी अंजनादेवी की सोमवार को मौत हो गई। अंजनादेवी 74 साल की थीं और सोमवार को नींद के दौरान दिल के दौरे ने उनकी जान ले ली। रोहित की आत्‍महत्‍या के बाद से ही वह बीमार थीं। अंजनादेवी ने रोहित की मां राधिका को गोद लिया था। हालांकि उन पर राधिका और उसके बच्‍चों के साथ दुर्व्‍यवहार का आरोप भी लगा। हालांकि रोहित की आत्‍महत्‍या के बाद अंजनादेवी राधिका के साथ खड़ी रहीं।

रोहित के छोटे भाई राजा ने बताया, ‘वह हार्ट पेशेंट थीं और उनकी बायपास सर्जरी भी हुई थी। रोहित की मौत के बाद स्‍थानीय अधिकारियों ने उनसे पांच-छह घंटों तक पूछताछ की। इस चिंता के कारण उनकी मौत हो गई। अब समझ में नहीं आ रहा है कि हम क्‍या करें।’ रोहित का परिवार जेएनयू विवाद और हैदराबाद यूनिवर्सिटी के मामले में प्रदर्शन के लिए दिल्‍ली आया हुआ था। राजा ने प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से रोहित की आत्‍महत्‍या मामले में रूख साफ करने को कहा। उन्‍होंने कहा कि मोदी ने राहुल की मौत को भारत माता के बेटे की मौत कहा था। लेकिन उनकी सरकार के कुछ लोग उसे देश विरोधी बता रहे हैं।

रोहित का शव हैदराबाद यूनिवर्सिटी कैंपस में 17 जनवरी को फंदे से लटकता मिला था। इसके बाद हैदराबाद समेत पूरे देश में काफी हंगामा हुआ था। रोहित का भाई राजा अप्‍लाइड जिऑलॉजी में पोस्‍ट ग्रेजुएट है। (Jansatta)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें