सहारनपुर | उत्तर प्रदेश का सहारनपुर जिला एक बार फिर संप्रदायिक हिंसा की आग में जल रहा है. यहाँ महाराणा प्रताप जयंती के मौके पर निकाली गयी शोभा यात्रा के दौरान दो पक्षों में हुई भिडंत ने इतना रौद्र रूप ले लिया की कई घर जलकर राख हो गए, दुपहिया वाहनों को आग लगा दी गयी. इसके अलावा हिंसा के दौरान हुई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गयी. फ़िलहाल पूरा क्षेत्र पुलिस छावनी में तब्दील हो चूका है.

और पढ़े -   ईद के दिन सडको पर नमाज पढने से रोक नही तो थानों में जन्माष्टमी मनाने पर किस हक़ से लगाये रोक - योगी आदित्यनाथ

यह घटना सहारनपुर के शब्बीरपुर गाँव की है. इसी गाँव के पड़ोस में है सिमलना गाँव. शुक्रवार को यहाँ महाराणा प्रताप की मूर्ति स्थापना का कार्यक्रम था. इसलिए आस पास के सभी गाँव से एक विशेष समुदाय के लोग सिमलना पहुँच रहे थे. शब्बीरपुर से भी ट्रेक्टर ट्राली में भरकर लोग डीजे बजाते हुए कार्यकर्म में हिस्सा लेने जा रहे थे. यह बात दुसरे समुदाय के लोगो को पसंद नही आई.

और पढ़े -   मोदी सरकार के शासन में हुए अब तक 27 रेल हादसे, 259 की गई जान तो 899 हुए घायल

इसलिए उन्होंने कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे लोगो पर पथराव कर दिया जिसकी चपेट में आकर एक व्यक्ति घायल हो गया. इतना होते ही इन लोगो ने फ़ोन कर सिमलना गाँव से सैकड़ो लोगो को वहां बुला लिया. इसके बाद पुरे गाँव में तांडव का ऐसा खेल खेला गया जिसकी चपेट में कई घर और दो पहिया वाहन आ गए. हिंसक भीड़ ने करीब 20-22 घरो और बिटोड़ो को आग लगा दी.

इसकी अलावा इनकी चपेट में 12 दूपहिया वाहन भी आ गए. उनको भी आग लगा दी गयी. इस दौरान दोनों समुदाय में गोलीबारी होने से एक व्यक्ति की मौत हो गयी. मामले की सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और स्थिती नियंत्रण में करने का प्रयास किया. फ़िलहाल पुरे गाँव को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया था. मालूम हो की पिछले एक महीने में सहारनपुर में संप्रदायिक हिंसा की यह दूसरी वारदात है.

और पढ़े -   हिन्दू समिति की अजीब मांग , गरबे में मुस्लिमो का प्रवेश को रोकने के लिए आधार कार्ड को बनाया जाए अनिवार्य

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE