ravish-kumar-1

नई दिल्ली | टीवी न्यूज़ चैनल NDTV पर प्रतिबंध लगाने के केंद्र सरकार के फैसले पर , देश पर से प्रतिक्रियाये मिल रही है. सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार के फैसले की जमकर आलोचना हो रही है तो कुछ ऐसे लोग भी है जो मोदी सरकार के फैसले का समर्थन कर रहे है. लेकिन दो दिन से सोशल मीडिया पर के अजब चीज ट्रेंड कर रही है. वो है ‘ बागो में बहार है’.

अब आप सोच रहे होंगे की आखिर राजेश खन्ना की फिल्म का यह प्रसिद्ध गाना, सोशल मीडिया पर क्यों ट्रेंड कर रहा है. दरअसल NDTV के वरिष्ठ पत्रकार रविश कुमार हर सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे , प्राइम टाइम कार्यक्रम के जरिये , देश के जवलंत मुद्दों को उठाते है. केंद्र सरकार द्वारा NDTV पर प्रतिबंध लगाने के बाद , रविश कुमार से उम्मीद थी की वो जरुर इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंगे.

रविश कुमार ने केंद्र सरकार के फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी लेकिन एक ऐसे अंदाज में की पूरा सोशल मीडिया पूछने लगा ‘ बागो में बहार है’. रविश कुमार ने शुक्रवार को अपने कार्यक्रम प्राइम टाइम में प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार पर जमकर हमला बोला लेकिन जिस अंदाज में यह हमला बोला गया वो उनकी समझ और कौशल को दर्शाता है.

रविश कुमार ने अपने कार्यक्रम में दो माइम कलाकारों के जरिये सरकार से सवाल किया की अगर हम सवाल नही पूछेंगे तो क्या करेगे. क्या अथॉरिटी से सवाल पूछना गलत है? अगर सवाल अथोरिटी से किया जाता है तो ट्रोलर ( लठैत) क्यों जवाब देता है? दोनों माइम कलाकारों में से के अथॉरिटी बना था तो दूसरा ट्रोलर. इन सवालों के साथ साथ रविश कुमार ने अथॉरिटी से सवाल किया की क्या बागो में बहार है.

इन सवालो का जवाब देने की बजाय अथॉरिटी और ट्रोलर रविश कुमार पर भड़क उठे. इस कार्यक्रम के जरिये रविश कुमार ने मोदी सरकार को NDTV का जवाब दे दिया. उनका कहना था की हमारा काम सवाल पूछने का है और हम यह पूछते रहेंगे.

आइये देखते है ‘बागो में बहार है’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें