ramdev

नई दिल्ली | मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले से जनता पाई पाई को मोहताज हो गयी है. बैंक के सामने से लाइन छोटी नही हो रही, एटीएम में पैसा नही है , ऐसे में एक आम आदमी अपना गुजारा कैसे करे. सबसे ज्यादा दिक्कत उस परिवार को हो रही है जिसके यहाँ पर शादी है. शादी में होने वाले खर्चे तो आपको मालूम ही है. ऐसे में केवल कुछ हजार रूपए के बल पर कोई कैसे अपनी बेटी या बेटे की शादी कर सकता है.

योग गुरु रामदेव ने नोटबंदी पर NDTV से खुलकर बात की. शादियों में आ रही परेशानी पर बोलते हुए बाबा रामदेव ने मजाकिया लहजे में कहा की चूँकि बीजेपी में अधिकतर नेता कुंवारे है इसलिए उनको नही पता था की शादियों का सीजन कब है. इसलिए यह गलती हुई. लेकिन इससे काफी फायदा भी हुआ. कम से कम अब दहेज़ तो नही देना पड़ रहा. एक बहाना तो मिल ही गया.

बाबा रामदेव से जब गंभीरता से पुछा गया की वो शादियों में आ रही परेशानी पर क्या कहेगे, तो उन्होंने कहा की मैं मानता हूँ की इससे लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. अगर यह एक महीना या 15 दिन लेट होता तो इतनी परेशानी का सामना नही करना पड़ता. बाबा रामदेव को बीजेपी और मोदी का समर्थक माना जाता है. बाबा रामदेव ने 2014 के लोकसभा चुनाव में नरेन्द्र मोदी के लिए प्रचार भी किया था.

पुरे देश में करेंसी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. अचानक से 85 फीसदी करेंसी बंद करने से देश का हर तबका प्रभावित हुआ है. शादी वाले घर में कुछ ज्यादा ही परेशानी हो रही है. इसी परेशानी को देखते हुए मोदी सरकार ने फैसला लिया की अब वो परिवार जिसके यहाँ शादी है वो 2.5 लाख तक की राशी बैंक से निकाल सकते है. इसके लिए दूल्हा-दुल्हन या उनके माता पिता बैंक से पैसा निकाल सकते है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें