दिल्ली यूनिवर्सिटी के नॉर्थ कैंपस में राम जन्मभूमि को लेकर हो रहे सेमिनार पर विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया है. सेमिनार के शुरू होने से पहले ही कई छात्र संगठनों ने इसका विरोध आर्ट्स फैकल्टी के बाहर करना शुरू कर दिया है. स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस बल भी तैनात किए गए हैं, पुलिस बल के साथ स्टूडेंट की झड़प भी हुई.

यहां 9 जनवरी से राम और राम जन्मभूमि को लेकर दो दिवसीय सेमिनार शुरू हो रहा है. इसे अरूंधती वशिष्ठ अनुसंधान पीठ आयोजित कर रही है. यह विश्व हिंदू परिषद का रिसर्च संगठन है, जिसे वीएचपी नेता अशोक सिंघल ने स्थापित किया था. इस सेमिनार का विषय ‘श्री राम जन्मभूमि मंदिर: उभरता परिदृश्य’ रखा गया है. सेमिनार का उद्घाटन बीजेपी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी करेंगे.

सेमिनार का विरोध आम आदमी पार्टी की स्टूडेंट विंग छात्र युवा संघर्ष समिति (CYSS), ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन (AISA) और कांग्रेस पार्टी की स्टूडेंट विंग नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) कर रही है. वहीं, यूनिवर्सिटी ने अपने आपको इससे अलग करते हुए कहा है कि उसका इस संगोष्ठी के विषय से कोई लेना-देना नहीं है तथा संगठन ने अपने कार्यक्रम के लिए स्थान को बुक किया है जो बाहर के लोगों के लिए उपलब्ध रहता है.

 सेमिनार पर सियासत:


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें