कांग्रेस नेता गु़लाम नबी आज़ाद ने राज्यसभा में कहा है कि सत्ताधारी भाजपा देश में दोहरा खेल खेल रही है, सरकार और पार्टी दो अलग-अलग भाषाएँ बोल रही हैं. राज्यसभा में नफ़रत वाले भाषणों पर हो रही बहस के दौरान आज़ाद ने राज्य मंत्री रामशंकर कठेरिया की आगरा में दी गई कथित ‘हेट स्पीच’ का हवाला दिया.

कांग्रेस के ग़ुलाम नबी आज़ाद, सीपीआई के डी राजा और बसपा की मायावती ने राज्य मंत्री कठेरिया और अन्य लोगों के ख़िलाफ़ देशद्रोह का मामला चलाने की मांग की है. मंत्री कठेरिया और सांसद बाबू लाल ने रविवार को आगरा में एक हिंदू की हत्या के बाद हज़ारों लोगों को संबधित किया था.

एक भारतीय अख़बार में छपे इस भाषण को विपक्ष नफ़रत फैलाने वाला भाषण बता रहा है. हालाँकि कठेरिया ने ये कहा है कि उन्होंने अपने भाषण में किसी समुदाय का नाम नहीं लिया और न ही किसी समुदाय को निशाना बनाया.

कांग्रेस के नेता आज़ाद ने कहा, “जिस तरह का भाषण मंत्री ने दिया है वो भारत को बांटने वाला है. गृह मंत्री जी डबल खेल हो रहा है, सरकार सबका साथ सबका विकास कह रही है और पार्टी कह रही है कि हाथ काट लो, गला काट लो.”

उन्होंने कहा, “आपने निर्दोष छात्र कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया, क्या ये वो मामले नहीं हैं जिनमें इन लोगों पर देशद्रोह का मामला चलाना चाहिए, चाहे दक्षिण की पार्टी हो, हिंदू हो या मुसलमान हो, क्षेत्रीय दल हो या भाजपा हो, उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाएँ.”

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, “केंद्रीय मंत्री ने लगभग 5000 लोगों की भीड़ से कहा तुम्हें गोली चलाना होगी, तु्म्हें बंदूके उठाने होंगी, तुम्हें चाकू चलाने होंगे.”

आज़ाद का कहना था कि ये 2017 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनावों की तैयारी हो रही है.

कम्युनिस्ट पार्टी के नेता डी राजा ने कहा, “मैं सरकार से पूछना चाहता हूँ कि ये कौन लोग हैं जो दलितों, अल्पसंख्यकों और दबे-कुचले लोगों के ख़िलाफ़ नफ़रत फ़ैलाने वाले भाषण देते हैं. आप कहते हैं कि ये हशिए पर पड़े लोग हैं, क्या आप उन्हें जनता का प्रतिनिधित्व करने देते हैं?”

राजा ने कहा, “आप भारत मां के नाम पर बोलते हैं, मेरी भारत मां बौद्धों, ईसाइयों अन्यों के बीच कोई भेदभाद नहीं करती है. भारत माता का अपमान न करें. आप इस देश को तबाह क्यों कर रहे हैं. नाथूराम गोडसे का मंदिर बनाते हैं और राष्ट्रपुति का आपमान करते हैं.”

आज़ाद ने कर्णाटक में बीजेपी नेता अनंत कुमार के एक प्रेश कॉन्फ़्रेंस में ऐसा कहने पर भी आपत्ति जताई कि ‘जब तक विश्व से इस्लाम ख़त्म नहीं होगा आतंकवाद का ख़ात्मा नहीं होगा.’

मायावती ने कहा कि मुस्लिम समाज के बारे में केंद्रीय मंत्री कठेरिया ने ऐसा अमर्यादित बयान दिया है कि उनके ख़िलाफ़ देशद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए.

उन्होंने दावा किया, “यदि यूपी में हमारी सरकार होती तो बीजेपी, आरएसएस और कठेरिया जैसे लोगों के ख़िलाफ़ जल्द से जल्द कार्रवाई की जाती. मैं हवा में नहीं बोल रही हूँ बल्कि इससे पहले मैंने ऐसा करके दिखाया है.”

जनता दल (यू) शरद यादव ने भाजपा को निशाना बताते हुए कहा, “आप ज़्यादा दिन नहीं चलेंगे, ज़्यादा दिन चलना है तो इन सभी बातों को बंद कीजिए. एक दिन भी नहीं आता जब फ़ुरसत मिली हो. ग़ज़ब लोग हैं भाई, सोते उठते बैठते, यही मुद्दे चल रहे हैं.” (BBC)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें