mohammed-shahid

हॉकी के जादूगर मोहम्मद शाहिद को के निधन के बाद गुरुवार को राज्यसभा में कई सदस्यों ने उनके परिवार को आर्थिक मदद दिए जाने की मांग की हैं.

राज्यसभा सदस्य और भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान दिलीप तिर्की ने शून्यकाल के दौरान मोहम्मद शाहिद को श्रद्धांजलि दी और कहा कि ऐसे कई महान खिलाड़ी हैं जिन्हें लोग भूल चुके हैं. तिर्की ने कहा, “मैं और हजारों युवा उन्हें अपना आदर्श मानते हैं. यह दुख की बात है कि वह हमारे साथ नहीं हैं।. मुझे उम्मीद है कि सरकार उनके परिवार की मदद करेगी ताकि वह आर्थिक तंगी का शिकार न हों.”

उन्होंने आगे कहा कि मास्को में हुए ओलंपिक खेलों में शाहिद की टीम ने भारत को स्वर्ण पदक दिलाया था. लेकिन क्रिकेट को छोड़ कर अन्य खेलों के वह दिग्गज खिलाड़ी उपेक्षित होते जा रहे हैं जिन्होंने देश के लिए पदक जीते. मोहम्मद शाहिद के शानदार हॉकी खिलाड़ी के रूप में भारत सरकार ने उन्हें 1986 में पद्मश्री से नवाजा था.

राज्यसभा के कई सदस्ययों ने तिर्की के बयान का समर्थन किया. उप-सभापति पी.जे. कुरियन ने कहा, “मेरा मानना है कि पूरा सदन आपने जो कहा उससे सहमत होगा.”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें