नई दिल्ली. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को इशरत जहां मामले में दायर शपथ पत्र से जुड़ी गुम फाइलों के मामले की ‘आंतरिक जांच’ का आदेश दिया. जानकार सूत्रों ने यह जानकारी दी. गृह मंत्रालय के अपर सचिव बी. के. प्रसाद की अध्यक्षता में गठित आंतरिक जांच दल यह पता लगाने की कोशिश करेगा कि इस मामले में दर्ज दूसरे शपथ पत्र के मसौदे से जुड़ी संचिका कैसे गुम हुई.

ishrat_jahan_mother_624x351_pti

एक सूत्र ने बताया कि इस आंतरिक जांच में गृह मंत्रालय में वर्ष 2009 से ये फाइलें कहां-कहां गईं, इस पूरी कड़ी की जांच की जाएगी. पिछले हफ्ते राजनाथ सिंह ने लोकसभा में गुम हुई संचिकाओं के मामले की आंतरिक जांच कराने की घोषणा की थी.

बीजेपी और गृह मंत्रालय के अधिकारियों का आरोप है कि यूपीएओ की सरकार वर्ष 2004 में हुए इस मुठभेड़ मामले को लेकर बार-बार अपना रुख बदलती रही। इशरत मुंबई कॉलेज की छात्रा थी और आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के लिए काम करती थी. उस मुठभेड़ में वह आतंकियों के साथ मारी गई थी. (inkhabar)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें