rajdeep

प्रख्यात पत्रकार राजदीप सरदेसाई को गुजरात दंगों की कवरेज पर एक हाई प्रोफाइल मंत्री द्वारा चैनल बंद कर देंने की दी गई थी. सरदेसाई ने इस बात का खुलासा अपनी किताब ‘मोर न्‍यूज इज गुड न्‍यूज’ में किया हैं. सरदेसाई के मुताबिक, उन्‍हें एक हाई प्रोफाइल मिनिस्‍टर ने गुजरात दंगों की कवरेज न करने की धमकी दी थी. ऐसा न करने पर चैनल बंद करवा देने की बात कही थी.

किताब के अनुसार, ‘अगर बिग फाइट (टीवी शो) के जरिए एनडीटीवी में मुझे एंकरिंग का अनुभव मिला तो गुजरात 2002 वो वक्‍त है, जो शायद मेरी रिपोर्टिंग का वो पल था जो आज भी याद आता है. इस बारे में काफी कुछ कहा और लिखा जा चुका है. उसमें जोड़ने के लिए बहुत ज्‍यादा कुछ नहीं है सिवाए इसके कि मुझे टीम पर गर्व है, जिसने इस संघर्ष को कवर करने के लिए बेहद मुश्‍क‍िल हालात में काम किया. इस टीम में कैमरापर्सन नरेंद्र और प्रणव, रिपोर्टर संजीव सिंह और नलिन मेहता शामिल थे. मैं और जो कहूंगा वो यही है कि ऐसा कोई दूसरा ऐसा संगठन नहीं है, जहां मैं इतनी आजादी और निर्भीकता से रिपोर्टिंग कर पाता. मुझे याद है कि 2002 में बीजेपी की केंद्र और राज्‍य में सत्‍ता थी. मुझे याद है कि एक हाई प्रोफाइल मंत्री ने मुझे टेलिफोन करके कहा था, ‘अगर तुम दंगा कवर करोगे इसकी कीमत चुकाओगे, राजदीप, हम हमेशा के लिए चैनल पर बैन लगा देंगे.’ मैंने उन्‍हें कहा कि वे इस बारे में रॉय (चैनल के मालिक) को कॉल करें और उनसे बात करें। रॉय ने मुझे एक बार भी कवरेज घटाने के लिए नहीं कहा. उनकी ओर से बस यही संदेश था कि तथ्‍यों पर आधारित बात कहनी है.”


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE