chhota-rajan-620x400

देशभक्त का चोला आज अपराधियों का रक्षा कवच बन गया है इसकी आड़ में बड़े से बड़ा गुनाह आसानी से छुपाने की कोशिश की जाती हैं. इसी की आड़ लेते हुए हत्या, अवैध वसूली, तस्करी जैसे 70 से अधिक मामलों के आरोपी अंडरव‌र्ल्ड डॉन राजेंद्र सदाशिव निखलजे उर्फ छोटा राजन ने मंगलवार को अदालत के सामने खुद को एक सच्चें देश भक्त के रूप में प्रस्तुत किया हैं.

पटियाला हाउस कोर्ट के विशेष सीबीआइ जज विनोद कुमार के समक्ष फर्जी पासपोर्ट मामले में दिए बयान में छोटा राजन ने कहा कि वह वर्षों से खुद आतंकवाद के खिलाफ लड़ता रहा है. अगर उसकी जुबान खुली तो उच्च पदों पर बैठे बड़े अफसरों की पोल खुल जाएगी और देश की भारी बदनामी होगी.

अंग्रेजी अखबार मेल टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक उसने अपने आपको सच्चा देशभक्त बताते हुए कहा कि वह पिछले 25 सालों से आतंकवाद से लड़ रहा था. छोटा राजन को पिछले साल अक्टूबर में इंडोनेशिया की पुलिस ने बाली में गिरफ्तार किया था. उसके बाद नवंबर में उसे भारत लाया गया.

छोटा राजन ने अदालत में कहा कि फर्जी पासपोर्ट मामले में मेरे खिलाफ सभी आरोप बेबुनियाद हैं. अभियोजन पक्ष द्वारा वह सभी दस्तावेज जिन पर मेरे हस्ताक्षर दर्शाए गए हैं वह गलत हैं. गौरतलब रहें कि इंडोनेशिया के बाली से गिरफ्तारी के वक्त उसके पास से मोहन कुमार के नाम का पासपोर्ट  बरामद हुआ था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें