भारतीय रेल के सेंट्रल रेलवे कैटरिंग डिपार्टमेंट का बड़ा घोटाला सामने आया हैं. आरटीआई में हुए खुलासें के मुताबिक़ रेलवे ने 72 रुपये प्रति 100 ग्राम दही और 1241 रुपये प्रति लीटर की दर से तेल खरीद कर बड़ा घोटाला किया हैं.

अंग्रेजी अखबार ‘द हिंदू’ की एक खबर के अनुसार, रेलवे द्वारा आरटीआई के जवाब में दी गई जानकारी के अनुसार मार्च 2016 में 58 लीटर रिफाइंड तेल 72,034 रुपये (1241 रुपये प्रति लीटर) में खरीदा गया था. रेलवे ने टाटा नमक के 150 पैकेट 2670 रुपये (49 रुपये प्रति पैकेट) में खरीदे, जबकि नमक के एक पैकेट की एमआरपी 15 रुपये थी. इसी तरह पानी की बोतल और कोल्ड ड्रिंक 59 रुपये प्रति बोतल की दर से खरीदे गए.

और पढ़े -   स्मृति ईरानी पर भड़के पहलाज निहालानी, कहा - ‘इंदु सरकार’ के चलते मुझे हटाया गया'

इसके अलावा 570 किलो तूर दाल 89,610 रुपये (157 रुपये प्रति किलो), 650 किलो चिकन 1,51,586 (233 रुपये प्रति किलो), 148.5 किलो मूंग दाल 89610 रुपये (157 रुपये प्रति किलो) और 178 पानी-कोल्ड ड्रिंक्स के बॉक्स (एक बॉक्स में 10 बोतलें) 106031 रुपये (59 रुपये प्रति बोतल) की दर से खरीदे गए. सिर्फ समोसा, प्याज और आलू ही सही दर से खरीदे गए. हालांकि खबर के वायरल होने के बाद रेलवे ने कहा कि आरटीआई में दी गई जानकारी एक टाइपो एरर थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE