नई दिल्ली | देश में मुसलमानों पर हो रहे हमलो के बीच प्रधानमंत्री मोदी चुप्पी साधे हुए है. खासकर गुरुवार को बल्लभगढ़ के जुनैद की हत्या के बाद यह उम्मीद लग रही थी की मोदी ‘मन की बात’ कार्यक्रम में इस बात का जिक्र करेंगे और इस तरह की घटनाओ पर रोक लगाने का आश्वासन देंगे. लेकिन ऐसा नही हुआ और वो अगले ही दिन अमेरिका की यात्रा पर निकल गए. ऐसे में सवाल उठता है की क्या मोदी सरकार अल्पसंख्यको पर हो रहे हमलो से चिंतित भी है या नही?

और पढ़े -   वाराणसी में लगे मोदी के लापता होने के पोस्टर लिखा, जाने कौन सा देश तुम चले गए

हालाँकि लगातार हो रही आलोचनाओ को देखते हुए केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा की वो और उनकी सरकार ऐसी घटनाओ को लेकर चिंतित है और हम ऐसे लोगो से कड़ाई से निपटने के लिए कटिबद्ध है. उधर बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष अब्दुल रशीद अंसारी ने भी इन घटनाओं पर चिंता जाहिर की है. उनका कहना है की वो और उनकी पार्टी मुस्लिमो पर हो रहे हमलो को लेकर चिंतित है.

और पढ़े -   दलाल बन गए बेरोजगार, वे ही कर रहे हल्ला और कह रहे रोजगार नहीं है: पीएम मोदी

यही नही अंसारी ने केंद्र सरकार की चुप्पी पर सफाई देते हुए कहा की हमारा मानना है की समुदाय को ऐसा माहौल मिलना चाहिए जिसमे की उनको लगे की वो सुरक्षित है और सरकार उनकी चिंता करती है. अंसारी ने आगे कहा की न केवल मुस्लिम होने के नाते बल्कि एक भारतीय नागरिक, एक राजनेता के रूप में , मैं ऐसी घटनाओ को लेकर चिंतित हूँ. मैं मानता हूँ की मेरी पार्टी भी इस मामले को लेकर इतनी ही चिंतित है.

अंसारी , बीजेपी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन के यहाँ ईद की दावत के लिए पधारे थे. इस दौरान इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए उन्होंने ये बाते कही. उन्होंने आगे कहा की मोदी जी भी हर बात पर अपनी प्रतिक्रिया नही दे सकते. वो गुजरात में गौरक्षको द्वारा दलितो की पिटाई के बाद अपनी प्रतिक्रिया दे चुके है. यही नही वो उड़ीसा में हुई बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक में भी अल्पसंख्यको का ख्याल रखने की बात भी कह चुके है. इसलिए मोदी सरकार की नियत पर सवाल नही उठाया जा सकता.

और पढ़े -   आप विधायक अलका लाम्बा ने बलात्कारियो का लिंग काटने की दी सलाह कहा, बाप अपनी बेटी को दे धारधार हथियार चलाने की ट्रेनिंग

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE