भारत में नेताओं और वीवीआईपी लोगों के लिए ट्राफिक को रोकना कोई आम बात नहीं है. लेकिन किसी आम आदमी के लिए देश के महामहिम के काफिले को रोकना बहुत बड़ी बात है. ऐसा हुआ बंगलुरु में. जहाँ एक एम्बुलेंस को निकालने के लिए एक यातायात अधिकारी ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के काफिले को रोक दिया.

इस पुलिस सब इंस्पेक्टर का नाम है एमएल निजलिंगप्पा. निजलिंगप्पा बेंगलुरु की ट्रिनिटी सर्कल पर ड्यूटी पर तैनात थे. इस दौरान वहां से प्रेजिडेंट प्रणब मुखर्जी का काफिला गुजरना था. राष्ट्रपति का काफिला राजभवन की ओर बढ़ रहा था कि तभी उन्होंने एक एम्बुलेंस को ट्रफिक में फंसे हुए देखा.

न केवल उन्होंने राष्ट्रपति के काफिले को रोका. बल्कि एम्बुलेंस को ट्राफिक जाम में से निकालकर हॉस्पिटल पहुँचने में मदद की. निजलिंगप्पा ने इस घटना के बाद लोगों का दिल जीत लिया है.

और पढ़े -   जाकिर नाईक का इंटरपोल को जवाब: मुस्लिम होने की वजह से बनाया जा रहा निशाना

बेंगलुरु शहर के डेप्युटी कमिश्नर ऑफ पुलिस-ट्रैफिक ईस्ट डिविजन अभय गोयल ने टि्वटर पर अफसर की तारीफ की है. बेंगलुरू के पुलिस आयुक्त प्रवीण सूद ने उन्हें इनाम देने का भी ऐलान किया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE