नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट के मशहूर वकील और आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता प्रशांत भूषण अक्सर अपने ट्वीट की वजह से सुर्खियों में रहते है. इस बार भी उनके ट्वीट ने हंगामा मचा दिया है. दरअसल उन्होंने स्वतंत्र संग्राम आन्दोलन में मुस्लिमो के योगदान का जिक्र करते हुए कहा की उस आन्दोलन में हिन्दुत्वादी संगठनों ने कुछ नही किया. जैसे ही प्रशांत ने यह ट्वीट किया, उनके खिलाफ लोगो का गुस्सा फूट पड़ा.

23 जुलाई को चंद्रशेखर आजाद की जयंती पर प्रशांत भूषण ने एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने लिखा,’ आजादी के आन्दोलन में इस्तेमाल किये गये अधिकतम नारे एवं गीत मुस्लिमो द्वारा लिखे गए थे. हिन्दुत्वादी संगठनों ने तो आजादी की लड़ाई में हिस्सा भी नही लिया.’ इस ट्वीट में प्रशांत ने एक तस्वीर भी शेयर की जिसमे कुछ मुस्लिमो के नाम और उनके बनाये गए नारे लिखे हुए थे.

इसके अलावा इस ट्वीट में सुरैया तैयबजी का जिक्र करते हुए प्रशांत भूषण ने लिखा की देश के तिरंगे को शक्ल देने में भी एक मुस्लिम का हाथ था. प्रशांत का यह ट्वीट कुछ लोगो को नागवार गुजरा. उन्होंने प्रशांत को भला बुरा कहते हुए कई ऐसे लोगो के नाम भी गिनवा दिए जिन्होंने आजादी की लड़ाई में कई प्रसिद्ध नारे दिए. कुछ लोग प्रशांत से इस बात से भी नाराज दिखे की उन्होंने आजादी की लड़ाई को भी मजहबी रंग दे दिया.

एक यूजर ने प्रशांत को पागल बताते हुए लिखा की जब से तुम्हे केजरीवाल ने लात मारकर बाहर निकला है तब से तुम पागल हो गए हो. एक यूजर ने प्रशांत का समर्थन करते हुए लिखा की उस समय आरएसएस वाले माफीनामा लिखने और ब्रिटिश के सामने अपनी पुंछ हिलाने में व्यस्त थे. एक यूजर ने बेहद आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए लिखा की भाई खुलेआम बोल दे की तेरा बाप मुस्लिम है, हमें मुस्लिमो से कोई दिक्कत नही है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE