नैनीताल : 5 लाख रूपये के लालच में उत्तराखंड की ‘मित्र’ पुलिस ने एक मुस्लिम युवक को आतंकवादी बनाने की धमकी देकर उससे कथित तौरपर 1 लाख रूपये ऐंठ लिए हैं. पीड़ित ने जब यू.एस.नगर जिला पुलिस से शिकायत की तो मामला सबके सामने आया. पुलिस के डी.आई.जी. ने क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में जांच शुरू कर दी है.

Nainital-SOG-Aatanki-Banane-Ki-Dhamki-V1-580x395

उनका कहना है की मामले में एक प्रतिशत भी अगर सत्यता होगी तो पुलिस वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी. एसएसपी केवल खुराना ने बताया की उन्होंने पूरी एसओजीटीम को भंग कर दिया है. उन्होंने बताया की सोमवार को नई एसओजीटीम का गठन किया जाएगा. ऊधम सिंह नगर जिले में मामला चर्चाओं में आते ही एसएसपी केवल खुराना ने जाँच के आदेश दे दिए है.

और पढ़े -   पूर्व राष्ट्रपति की पुण्यतिथि पर मोदी ने किया कलाम मेमोरियल का उद्घाटन

यह भी जानकारी मिल रही है कि आरोपी पुलिस कर्मी पीड़ित से अब सम्पर्क साध उसे पैसे वापस लौटाने और उनके खिलाफ दी शिकायत को वापस लेने को कह रहे है. पीड़ित शोएब के अनुसार यूएस नगर जिला पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप(एसओजी)टीम ने उसे फोन नंबर के आधार पर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने और आतंकियों के साथ फोन से सम्पर्क रखने के मामले में जेल भेजने के नाम से डराया और धमकाया था.

और पढ़े -   राष्ट्रवाद की भावना जागृत करने के लिए JNU में लगे भारतीय सेना का टैंक: वीसी

शोएब के अनुसार एसओजीकी टीम के इंचार्ज विकास चौधरी, फिरोज खान, चन्द्र प्रकाश बवाड़ी वर्षभर पहले उसके घर आए और उसे इनोवा गाड़ी में बिठाकर आतंकवादी बताते हुए धमकाने लगे. टीम ने फिर उसे मामला रफ दफा करने के नाम पर 5 लाख रुपयों की मांग की. उसने उन्हें 1 लाख रूपये दे भी दिए लेकिन वो उससे बाकी के रुपयों के लिए लगातार मांग करते रहे. (ABP)

और पढ़े -   पिछले तीन वर्षों में देश में धर्म और जाति के नाम पर 41 फीसदी हिंसा बढ़ी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE