jami

जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों द्वारा हॉस्टलों की पुलिस जांच को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया. जामिया के कई विद्यार्थियों ने शनिवार को आरोप लगाया कि उनके छात्रावासों में दिल्ली पुलिस द्वारा ‘औचक निरीक्षण’ किया गया.

छात्रों का कहना है कि दिल्ली पुलिस द्वारा अचानक रेड करना उनके संवैधानिक अधिकारों का उल्लंघन है और इससे छात्रों में भय का माहौल बन रहा है.

और पढ़े -   मध्यप्रदेश के शिक्षामंत्री का बयान, मदरसों में रोज गाया जाए राष्ट्रगान और फहराया जाए तिरंगा

सभी छात्रों ने चीफ प्रोक्टर महताब आलम के ऑफिस में इकट्टा होकर नारेबाजी की .एक प्रदर्शनकारी विद्यार्थी ने कहा, ‘यह विद्यार्थियों के संवैधानिक अधिकारों का हनन है.’

जहां विद्यार्थियों ने इसे ‘छापेमारी’ करार दिया, पुलिस अधिकारियों ने कहा कि यह नियमित जांच का हिस्सा था. स्वतंत्रता दिवस से पहले उस इलाके में यह जांच की जाती है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE