नई दिल्ली। आरएसएस चीफ मोहन भागवत की मॉर्फ़ फोटो शेयर करने पर फिर एक मुस्लिम युवक ख़लील की गिरफ्तारी हुई है। कर्नाटक के बगलकोट ज़िले की कोर्ट ने उन्हें 31 मार्च तक के लिए जेल भेज दिया है। 32 साल के ख़लील बिलागी इलाके में फुटवियर की दुकान चलाते हैं। इससे पहले इसी तस्वीर के लिए दो मुस्लिम युवक मध्यप्रदेश में गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

और पढ़े -   इस्लाम ने महिलाओं को भी दिया है तीन तलाक का देने का अधिकार - मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

केरूर पुलिस से ख़लील की शिकायत आरएसएस कार्यकर्ता सतीश ने की थी। उन्होंने पुलिस को बताया कि ख़लील ने आरएसएस प्रमुख की मॉर्फ़ फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की थी। केरूर पुलिस के सब इंस्पेक्टर यशस ने बताया कि उन्होंने भारत माता की जगह बुर्का पहनी हुई औरत की तस्वीर भी शेयर की थी।

पुलिस ने कहा कि खलील ने इन तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ नहीं की है लेकिन सोशल मीडिया पर शेयर ज़रूर किया है। मोहन भागवत की जिस फोटो को शेयर करने पर ख़लील की गिरफ्तारी हुई है, उसी फोटो पर दो मुस्लिम युवकों शाकिर और वसीम की गिरफ्तारी मध्यप्रदेश में भी हो चुकी है। मॉर्फ़ की गई तस्वीर में सिर्फ मोहन भागवत का सिर लगा हुआ है, बाकी हिस्सा महिला का है जिसने ख़ाकी रंग की पैंट और ऊंची हिल्स वाली सैंडल पहन रखी है। (Live India)

और पढ़े -   जंतर-मंतर पर दलितों का प्रदर्शन, देशव्यापी स्तर पर अब दलित करेंगे हिन्दू धर्म का त्याग

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE