dilli

नई दिल्ली: दिल्ली के विकासपुरी में मामूली झगड़े को लेकर डॉक्टर की पीट पीटकर हुई हत्या के बाद सोशल मीडिया पर अफवाहों का बाजार गर्म है. घटना को धार्मिक रंग देने की कोशिश हो रही है लेकिन दिल्ली पुलिस ने साफ किया है कि हत्या के पीछे कोई धार्मिक एंगल नहीं है. डॉक्टर पंकज नारंग की हत्या के नौ आरोपियों में से पांच हिंदू हैं और चार मुस्लिम.  पुलिस ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है.

दिल्ली में मामूली झगड़े के बाद गुंडों ने डॉक्टर को पीट-पीटकर मार डाला. सोशल मीडिया पर अफवाहों का बाजार गर्म है. गुंडागर्दी की घटना को धार्मिक रंग देने की कोशिश हो रही है. दिल्ली में अफवाह कौन फैला रहा है?

होली से एक दिन पहले बुधवार की रात दिल्ली के विकासपुरी में मामूली झड़प के बाद गुंडों ने डॉक्टर नारंग को उनके घर के बाहर सड़क पर पीट पीटकर मार डाला था. हत्या के नौ आरोपी पकड़े जा चुके हैं.

2503 doctor photoहत्याकांड को लेकर फेसबुक, टिवटर पर ऐसे मेसेज वायरल हो रहे हैं जिसमें हत्या के पीछे धार्मिक एंगल बताया जा रहा है. दिल्ली पुलिस की एडिशनल डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने अब सफाई दी है कि हत्याकांड के पीछे कोई धार्मिक एंगल नहीं है. जो 9 लोग आरोपी हैं उनमें से 5 आरोपी हिंदू हैं. बाकी मुस्लिम. मोनिका भारद्वाज ने ट्वीट कर कहा, ”गिरफ्तार किए गए 9 आरोपियों में से 5 हिंदू हैं. जबकि पहली बार जिन दो बाइक सवारों से डॉक्टर की झड़प हुई ,उनमे भी एक हिंदू था. जबकि गिरफ्तार किया गया मुस्लिम युवक यूपी से है ना कि बांग्लादेश से.”

इसके साथ ही दूसरे ट्वीट ने डीसीपी मोनिका ने कहा, ”9 आरोपियों में से 4 नाबालिग हैं. इस घटना को सांप्रदायिक रंग देने का प्रयास ना करें एवं शांति बनाए रखें.”

आपको बता दें कि ये पूरी घटना होली से एक दिन पहले बुधवार की रात की है जब भारत और बांग्लादेश के रोमांचक मैच में भारत को मिली जीत के बाद डॉक्टर नारंग घर के बाहर अपने 8 साल के बेटे के साथ क्रिकेट खेल रहे थे इस दौरान गेंद गेट के बाहर चली गई.

डॉक्टर नारंग बेटे के साथ बॉल लेने गेट के बाहर निकले. उसी वक्त आरोपी नासिर अपने नाबालिग साथी के साथ तेजी से बाइक दौड़ाता हुआ वहां से गुजर रहा था.

डॉक्टर नारंग ने उसे रोका और गली में तेज बाइक चलाकर हुड़दंग मचाने से मना किया और फिर नासिर और उसके साथियों की डॉक्टर नारंग से कहासुनी हो गई.

इसके बाद नासिर वहां से चला गया और थोड़ी देर बाद लाठी और लोहे की रॉड से लैस दर्जनभर लोगों के साथ वापस आया. भीड़ ने डॉक्टर के घर पर धावा बोल दिया. डॉक्टर के घर पर ईंट बरसाने शुरू कर दिए और जब डॉक्टर नारंग बाहर निकले तो ये गुंडे उन पर टूट पड़े.

डॉक्टर नारंग के साले ने जब उन्हें बचाने की कोशिश की तो गुंडों ने उन्हें भी पीटा. डॉक्टर नारंग को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनकी मौत हो गई.

पुलिस ने बताया कि बाइकसवार ने अपने 10 दोस्तों को बुला लिया और नारंग को घर से खींचकर डंडों और ईंटों से पीट-पीट कर मार डाला


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें