गुजरात में भारी बारिश के चलते राज्य के कई हिस्से जलमग्न है. जिसके चलते बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों के बचाव के लिए आर्मी, एयर फोर्स, बीएसएफ और एनडीआरएफ की टीमें तैनात की गई हैं. बाढ़ में अबतक 70 लोंगों की मौत हो चुकी है.

उत्तर गुजरात में मूसलाधार बारिश के कारण बनासकांठा और पाटन जिले में बाढ़ से ज्यादा प्रभावित है।. ऐसे में अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद हालात का जायजा लेने गुजरात के लिए रवाना हो गये. वह शाम 4 बजे अहमदाबाद पहुंचेंगे और बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे.

और पढ़े -   आरएसएस की बहिष्कार मुहिम नहीं आई काम, भारत ने चीन से किया 33% ज्‍यादा आयात

हालांकि इससे पहले बाढ़ के हालात का जायदा लेने के लिए सीएम विजय रूपानी ने हवाई दौरा कर चुके हैं. एनडीआरएफ की टीमें और वायु सेना के हेलिकॉप्टर को रेस्क्यू के लिए लगाया गया है.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने बताया कि पड़ोसी राजस्थान में भारी बारिश के चलते समस्या जटिल हो गई है जिसके कारण नदियों एवं बांधों में जलस्तर बढ़ गया है. दांतीवाड़ा और सिपू बांधों के लबालब भर जाने की वजह से इनसे पानी छोड़ा गया, जिसके कारण निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है.

और पढ़े -   राष्ट्रगान और वीडियोग्राफी इस्लाम के खिलाफ, योगी सरकार रद्द करें अपना फैसला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE