मुंबई. पैरोल मामले में महाराष्ट्र सरकार की ओर से क्लीन चिट दिए जाने के बाद संजय दत्त को अच्छे बर्ताव के कारण 117 दिन पहले जेल से रिहा किए जाने के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है.

sanjay dutt

याचिका दायर होने के बाद संजय दत्त की जल्द रिहाई का मामला फंस सकता है. संजय दत्त के खिलाफ हाई कोर्ट में दायर याचिका पर अगले हफ्ते सुनवाई हो सकती है. बता दें कि अच्छे बर्ताव की वजह से 116 दिन पहले संजय दत्त 27 फरवरी को जेल से बाहर आ सकते हैं.

और पढ़े -   मौलाना कल्बे सादिक ने कहा - राम मंदिर के लिए दे देनी चाहिए बाबरी मस्जिद की जमीन

क्या है मामला: आर्म्स एक्ट के तहत मिली सजा काटने के लिए संजय दत्त पुणे की यरवदा जेल में हैं. लेकिन बीते साल वह फर्लो पर जेल से बाहर आए थे और अपने परिवार के साथ छुट्टी बिताई थी. दोबारा छुट्टी से संबंधित उनकी अर्जी मुंबई पुलिस और जेल प्रशासन के बीच अटक गई थी. अर्जी मंजूर नहीं होने के बाद वह फिर से जेल चले गए थे.

और पढ़े -   सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से पुछा: आखिर क्यों नहीं खा सकता आम आदमी गोश्त

संजय दत्त को मिली थी पांच साल की सज़ा: मुंबई बम विस्फोट में शामिल होने के कारण मार्च 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने संजय दत्त को 5 साल की सजा सुनाई थी. अभिनेता को टाडा के तहत आतंकवाद के आरोपों से बरी कर दिया गया था, लेकिन 1992 में संजय दत्त को बाबरी विध्वंस के बाद मुंबई में फैली सांप्रदायिकता के दौरान अवैध रूप से हथियार रखने का दोषी पाया था. साभार: inkhabar

और पढ़े -   राष्ट्रगान और वीडियोग्राफी इस्लाम के खिलाफ, योगी सरकार रद्द करें अपना फैसला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE