iit

भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) में जल्द ही पाकिस्तानी छात्र भी पढाई करते देखे जा संकेंगे. इसके लिए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने खाका तैयार कर विदेश और गृह मंत्रालय से मंजूरी ले ली है. विदेश मंत्रालय ने एचआरडी के इस प्रस्ताव को पड़ोसी देशों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध बनाने की नीति का ही हिस्सा बताया हैं. पाकिस्तानी छात्रों को वीजा देने के मामले में गृह मंत्रालय ने भी मंजूरी दे दी है.

गोरतलब रहें कि पाकिस्तान के अलावा IIT में सार्क समूह में शामिल अन्य देशों के छात्रों को भी पढ़ने का मौका दिया जायेंगा. शैक्षणिक सत्र 2017-18 से आईआईटी-जेईई के लिए आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा में भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल, भूटान, अफगानिस्तान, र्शीलंका और मालदीव के छात्र बैठेंगे.

प्रवेश परीक्षा का पैटर्न भारतीय और सार्क देशों के लिए एक जैसा होगा. आईआईटी-मेन की परीक्षा सीबीएसई और एडवांस की परीक्षा आईआईटी संस्थानों द्वारा आयोजित की जाएगी. इन छात्रों के लिए आईआईटी के स्नातक पाठय़क्रम यानि बीटेक के लिए एक हजार सीटें और परास्नातक यानि पीजी कोर्स के लिए 800 से 900 सीटें रखी जाएंगी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE