gurn

पाकिस्तानी घुसपैठियों की साजिश नाकाम के दौरान पाकिस्तान की गोलीबारी में घायल हुए जवान गुरमान सिंह ने शनिवार रात को अस्पताल में दम तोड़ दिया हैं. गोली लगने के बाद से ही उनका जम्मू के अस्पताल में इलाज चल रहा था.

गुरुवार को हीरानगर सेक्टर में पाकिस्तान ने अचानक फायरिंग शुरु कर दी थी. इस दौरान गुरमान सिंह ने अपने साथियों के साथ मौर्चा संभाला. दोनों और देर तक गोलीबारी हुई. जिसके बाद आतंकी भाग खड़े हुए.

21 अक्टूबर को सुबह 9.45 बजे रेंजर्स ने स्नाइपर रायफल्स से निशाना बनाकर फायर किया. जिसकी गोली सीधे निशाने पर गुरनाम को लगी. इसके बावजूद गुरनाम ने हथियार नहीं डाले, बल्कि रेंजर्स पर फायरिंग करते रहे.

उनके साथियों ने कवर फायर देकर वहां से बाहर निकाला और जम्मू अस्पताल पहुंचाया. इस जांबाज सिपाही ने दुश्मन ही नहीं बल्कि मौत से भी जमकर संघर्ष किया अंत में चिर निंद्रा में सो गया.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें