गौरक्षा के नाम पर राजस्थान के अलवर में मरने वाले पहलू खान को इन्साफ नहीं मिला है. राजस्थान पुलिस ने हत्या के सभी आरोपियों को क्लीन चीट दे दी है.

राजस्थान पुलिस ने छह मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए इनाम भी घोषित था लेकिन उन्हें अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई. हालांकि अब उन सभी को जांच में बरी कर दिया है.

अलवर के एसपी राहुल प्रकाश के अनुसार हत्या के इन सभी छह आरोपियों के खिलाफ अब केस बंद कर दिया गया है. सभी आरोपी हिंदू संगठनों से जुड़े है.

और पढ़े -   दशहरे और मोहर्रम पर नही बजेगा डीजे और लाउडस्पीकर, योगी सरकार ने दुर्गा प्रतिमा और ताजिया की ऊंचाई भी की निर्धारित

हत्या के ये 6 आरोपी हुए बरी:

  1. ओम यादव (45),                        आखिल भारतीय विधार्थी परिषद का जिला संयोजक
  2. हुकुम चंद यादव (44),                   हिंदू जागरण मंच का कस्बा प्रमुख
  3. सुधीर यादव (45),                        गो सेवा समीति का अध्यक्ष
  4. जगमाल यादव (73),                     मानव जागृति मंच प्रमुख
  5. नवीन शर्मा (48)                          आरएसएस के संभाग प्रभारी
  6. राहुल सैनी (24)                          आखिल भारतीय विधार्थी परिषद का सह जिला संयोजक
और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों की आने की संभावना के चलते भारत ने म्यांमार के साथ की अपनी सीमा सील

गौरतलब रहे कि जयपुर से गाय खरीदकर अपने घर लौट रहे पहलू खान और उनके परिवार के अन्य कुछ सदस्यों पर इन लोगों ने जानलेवा हमला किया था, जिसमे पहलू खान की मौत हो गई थी.

हमले के दौरान पहलू खान के साथ मौजूद उनके बेटे इरशाद ने कहा, यह धोखा है। हम लोगों ने उनके नाम भी सुने थे. हम लोग दोबारा से जांच की मांग करेंगे. इसके साथ ही इरशाद ने कहा कि अभी हमारी लड़ाई खत्म नहीं हुई है. जब तक इन छह लोगों को दोषी नहीं साबित किया जाता, हम लड़ाई लड़ते रहेंगे.

और पढ़े -   टीवी पर आने वाले फर्जी मौलानाओं की आएगी शामत, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड कसेगा शिकंजा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE