राजस्थान के अलवर में डेयरी उद्योग के लिए गाय खरीद कर ले जा रहे पहलू खान की भगवा कार्यकर्ताओं द्वारा पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी. साथ ही उनके बेटे भी इस हमले में भी बुरी तरह से घायल हुए थे.

उन्ही में से एक अरशद ने देश भर में गाय के नाम पर हो रही हत्याओं पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि गौमाता के नाम पर इंसानों की जान लेना बंद होनी चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने उग्र राष्ट्रवाद के चलते मुस्लिमों के पाकिस्तान से सबंध जोड़े जाने की निंदा की.

उन्होंने कहा, “मुसलमानों को कुछ लोग बोलते हैं पाकिस्तान जाने को…पर मैं इस देश में पैदा हुआ था और इस देश का हूं.” अरशद ने उस जघन्य कांड को याद करते हुए कहा कि डेयरी उत्पादन कोई नया पेश नहीं है. हमारे पास सभी दस्तावेज थे.

अरशद ने कहा, हम भी गाय का सम्मान करते है, लेकिन इसके लिए आपको किसी भी इंसान की जान लेने का हक़ नहीं है. गाय को लेकर मेरे पिता की हत्या को तीन महीने हो गए लेकिन न्याय के लिए बात नहीं की.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE