भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाली ट्रेन ‘समझौता एक्सप्रेस’ को गुरुवार से फिर से संचालित किया जाएगा। हरियाणा में चल रहे जाट आंदोलन की वजह से इसके संचालन को सस्पैंड कर दिया गया था। पाकिस्तान रेलवेज़ ने इसकी जानकारी दी है।

‘इकॉनॉमिक टाइम्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों देशों के बीच ट्रेन और बस सर्विसेस को सस्पैंड कर दिया गया था। ऐसा जाट समुदाय की तरफ से हरियाणा में किए जा रहे विरोध के चलते किया गया। जिसमें रोड और दिल्ली के लिए रेल लिंक्स को रोक दिया गया था।

डॉन ऑनलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान टूरिज़्म डेवलेपमेंट कॉर्पोरेशन के लाहौर दफ्तर के अधिकारियों ने बताया कि भारतीय अधिकारियों की तरफ से क्लीयरेंस मिलने के बाद दोस्ती बस सर्विस को फिर से शुरू किया जाएगा। वाघा और अटारी सीमा पर सोमवार और गुरुवार को चलने वाली ट्रेन के ऑपरेशन का संचालन करने वाले एक अधिकारी ने बताया, “भारतीय रेल अधिकारियों ने हमें सूचित किया है कि उन्होंने उत्तर प्रदेश रूट पर चंडीगढ़ से दिल्ली के लिए जाने वाले 1,000 यात्रियों के लिए एक स्पेशल ट्रेन चलाई है।”

करीब 200 यात्रियों ने सोमवार की समझौता एक्सप्रेस में सीटों का रिजर्वेशन कराया है। एक अधिकारी ने बताया, “यात्रियों को दिए गए टिकिट्स तुरंत अगली यात्रा के लिए वैध होंगे।” साथ ही उन्होंने बताया कि ट्रेन में 500 यात्री आ सकते हैं। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें