नई दिल्ली: यह हफ्ता शायद दिल्ली से बीजेपी विधायक ओपी शर्मा के लिए अच्छा साबित न हो। सोमवार को पटियाला कोर्ट के बाहर लेफ्ट के एक नेता पर हमला करते हुए शर्मा को कैमरे पर देखा गया। इसके बाद उन्हें हिरासत में लिया गया लेकिन गुरुवार को उन्हें जमानत मिल गई। शर्मा की मुश्किलें यहीं खत्म नहीं होती।। शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा की एक समिति ने शर्मा को निष्कासित करने की सिफारिश की है। वजह – शर्मा ने एक महिला विधायक पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

ओपी शर्मा के लिए बढ़ी मुसीबत, विधानसभा की समिति ने की निष्कासन की सिफारिशआदतन दोषी
दिल्ली विधानसभा की आचारनीति समिति ने शर्मा को यह दंड दिए जाने की मांग की है। गौरतलब है कि बीजेपी विधायक ने आम आदमी पार्टी की सदस्य अलका लांबा पर आपत्तिजनक टिप्पणियां कसी थीं। दिल्ली विधानसभा में 70 में से 67 सीटें आप पार्टी के पास हैं। बाकी तीन बीजेपी के पास हैं। पिछले साल नवंबर में बेघर लोगों के लिए रात को आश्रय के इंतज़ाम किए जाने पर विधानसभा में चर्चा हो रही थी। तभी शर्मा ने लांबा पर टिप्पणी करते हुए पूछा कि वह काम के बाद का वक्त कैसे बिताती हैं। इस घटना के बाद शर्मा को दो दिन के लिए विधानसभा से सस्पेंड कर दिया गया था।

और पढ़े -   दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगाने के ममता सरकार के आदेश पर हाई कोर्ट सख्त, पुछा सत्ता है तो मनमाना आदेश पारित करेंगे

आचारनीति समिति में 10 विधायक हैं जिसमें बीजेपी और आप पार्टी दोनों के सदस्य शामिल हैं। सूत्रों के मुताबिक शर्मा ने लांबा से माफी मांगने से इंकार कर दिया। अब अगर सभा को शर्मा के निष्कासन के लिए वोट करने को कहा जाएगा तो ज़ाहिर है लांबा की पार्टी के बहुमत में होने की वजह से नतीजा बीजेपी विधायक के खिलाफ ही आने वाला है। समिति ने यह निष्कर्ष भी निकाला है कि शर्मा को आदतन गलतियां करते हुए पाया गया है। (NDTV)

और पढ़े -   गौरक्षकों के डर से पहलू खान के ड्राइवर ने छोड़ा अपना मवेशी पहुंचाने का काम

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE