मुंबई | 22 जून को दिल्ली से मथुरा जा रही ट्रेन में एक हिंसात्मक भीड़ ने 15 साल के जुनैद को मौत के घाट उतार दिया. उसकी गलती सिर्फ इतनी थी की उसने मुस्लिम टोपी लगायी हुई थी. यही टोपी उसकी मौत का कारण बनी. वहां मौजूद लोगो के अनुसार भीड़ में शामिल कुछ लोग ने जुनैद और उसके भाइयो पर सम्प्रदायिक टिप्पणी की और उनकी मुस्लिम टोपी को उतार कर फेंक दिया. उनको बीफ खाने वाला और पाकिस्तान परस्त तक करार दिया गया.

समाज के एक हिस्से की मुस्लिमो के प्रति नफरत का ही नतीजा है की आज जुनैद अपने परिवार के साथ नही है. पिछले कुछ समय में ऐसी काफी घटनाए हुई है जिसमे सीधे सीधे मुस्लिमो को निशाना बनाया गया है. देश में कुछ ऐसी ताकते है जो समाज को बांटने का काम कर रही है. इन्ही ताकतों के खिलाफ बुधवार को दिल्ली के जंतर मंतर सहित देश के कई हिस्सों में लोगो ने प्रदर्शन किया. इस दौरान प्रदर्शन में सभी धर्मो के लोग मौजूद रहे.

और पढ़े -   डॉ कफील के समर्थन में आया AIIMS, कहा - नाकामी छुपाने के लिए बनाया गया बलि का बकरा

notinmyname के नाम से हुए इस प्रदर्शन के पक्ष में बॉलीवुड अभिनेत्री रेणुका शहाणे ने भी एक फेसबुक पोस्ट की है. लिखने के कुछ देर बाद ही यह पोस्ट वायरल हो गयी. लोग लगातार इसको शेयर कर रहे है. इसमें रेणुका लिखती है की जुनैद को एक क्रूर भीड़ ने मौत के घाट उतार दिया. मुझे परवाह नही है की वो क्रूर भीड़ किस धर्म से ताल्लुक रखती थी, जुनैद किस धर्म से ताल्लुक रखता था. मैं बस एक बात जानती हूँ की एक मतलबी , क्रूर भीड़ ने एक 16 साल के बच्चे को पीट पीट कर मार डाला.

और पढ़े -   गोरखपुर हादसे को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का योगी सरकार को नोटिस

रेणुका आगे लिखती है की मेर दिल जुनैद की माँ के लिए टूटता है क्योकि मैं जानती हूँ उन पर क्या बीत रही होगी. मेरा खुद का बेटा अगले साल 16 साल का हो जायेगा. जुनैद को मारने में क्रूर भीड़ के अलावा उन लोगो का भी हाथ है जो उस समय वहां मूकदर्शक बने खडी रही. कुछ ऐसे भी लोग है जो उस कृत्य को सही ठहरा रहे है. ये वो लोग है जो नफरत के सौदागर है. मैं किसी राजनितिक दल से सम्बन्ध नही रखती लेकिन दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में संविधान की आत्मा को बचाने की जिम्मेदारी हम सब की है.

और पढ़े -   मोदी के भाषण पर उमर अब्दुल्ल्ला का तंज कहा, उम्मीद है उनकी दलील सुरक्षा बलों के लिए भी

पढ़े पूरी पोस्ट


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE