150621123723-02-modi-yoga-day-2106-super-169

यो‍ग दिवस को लेकर आयुष मंत्रालय के फैसले से विवाद शुरू हो गया हैं. मंत्रालय ने आदेश दिया हैं कि योग दिवस यानि 21 जून को योग के दौरान ऊँ मंत्र का जाप करना अनिवार्य होगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार आयुष मंत्रालय ने इसके लिए पूरी तैयारी भी कर ली है.

आयुष मंत्रालय की प्रेस रिलीज केअनुसार, योग दिवस पर कुल 45 मिनट का कार्यक्रम होगा. इसमें 6 मिनट गर्दन और कंधे से जुड़े आसन होंगे. दो मिनट प्रार्थना होगी और इसके बाद 23 योग आसन किए जाएंगे.

और पढ़े -   सरकारी मदद देने की एवज में राजस्थान की बीजेपी सरकार ने लोगो के घरो के बाहर लिखा, 'मैं बेहद गरीब हूँ'

मुस्लिम धर्मगुरुओ ने इस फैसले को धर्मनिरपेक्षकता के ख‍िलाफ बताया है. उन्होंने कहा कि ये सत्ता का गलत इस्तेमाल है, जो हमारी आस्था के ख‍िलाफ है.

गोरतलब रहे कि पहली बार यह दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया था. इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में अपने भाषण से की थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE