सहारनपुर | सहारनपुर का शब्बीरपुर गाँव पिछले एक महीने से हिंसा की आग में जल रहा है. दलितों और ठाकुरों के बीच हुए जातीय संघर्ष में कई लोगो को अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ा है. फिलहाल दोनों ही वर्गों में तनाव की स्थिति बनी हुई है और प्रशासन को शांति बनाये रखने में एडी चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी स्थिति पर नजर बनाये हुए है.

सहारनपुर की फिजा में घुले इस जहर को मिटाने के लिए योगी सरकार ने अपने अधिकारियो को घटना स्थल का दौरा करने का आदेश दिया है. इसके अलावा अधिकारियो को पीडितो से मिल उनकी समस्याए जानने के लिए भी कहा है. सरकार के आदेश पर राज्य के गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्रा और एडीजी (कानून व्यवस्था) आदित्य मिश्रा गुरुवार को सहारनपुर पहुंचे.

करीब साढ़े ग्यारह बजे सहारनपुर पहुंचे सभी अधिकारी तुरंत वहां से शब्बीरपुर गाँव के लिए निकल गए. गाँव पहुंचकर गृह सचिव ने सबसे पहले राजपूत परिवारो के साथ बात की. इस दौरान मिश्रा ने लोगो को बुद्ध के जीवन से जुड़े और अन्य धर्मो के किस्से भी सुनाये. लोगो को सहिष्णुता का पाठ पढ़ाते हुए उनसे शांति बनाये रखने की अपील की. इस दौरान कुछ लोगो ने भीम आर्मी और ग्राम प्रधान को सबक सीखाने की बात की.

इस पर गृह सचिव मिश्रा ने उनको शांत करते हुए कहा की भीम आर्मी को हम देख लेंगे. इस दौरान उन्होंने पुलिस की नाकामी पर माफ़ी भी मांगी. लोगो को आश्वासन दिया गया की जिन भी पुलिस कर्मियों ने अपना दायित्व सही तरह से नही निभाया उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. राजपूत समुदाय से मिलते समय मिश्रा ने माफ़ी मांगते हुए कहा की मैं पिछली बार दलितों से मिलकर चला गया था इसके लिए मैं माफ़ी मांगता हूँ.

मिश्रा ने बताया की उस समय जरुरी मीटिंग की वजह से मुझे जाना पड़ा. इसके बाद मिश्रा दलित समुदाय से मिलने पहुंचे. यहाँ उन्होंने सभी दलितों का जय भीम कहकर संबोधन किया. उन्होंने एक लोगो से सरकार की मदद करने की अपील करते हुए कहा की हम सब इंसान है और हमारा सबका खून भी एक है. जब दलितों ने 23 मई को प्रशासन से कोई मदद न मिलने की शिकायत की तो मिश्रा ने कहा की इसलिए ही मैं यहाँ आया हूँ. इसके अलावा मिश्रा ने दलितों और ठाकुरों से आपस में बात करने का भी आग्रह किया जिसको दोनों पक्षों ने मान लिया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE